राज्य

सुप्रीम कोर्ट ने शराब की चार कंपनियों को बिहार में लाइसेंस के लिये नहीं दी इजाजत

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 21, 2017, 3:45 PM IST
सुप्रीम कोर्ट ने शराब की चार कंपनियों को बिहार में लाइसेंस के लिये नहीं दी इजाजत
इस मामले की सुनवाई जस्टिस दीपक मिश्रा ने की. सुप्रीम कोर्ट ने पटना हाइकोर्ट को आदेश दिया है कि इस मामले में बेंच गठित कर दस मई के भीतर सुनवाई कर फैसला करें. कोर्ट के इस फैसले का बिहार सरकार ने भी स्वागत किया है.
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 21, 2017, 3:45 PM IST
सुप्रीम कोर्ट ने में बिहार में शराब का कारोबार करने वाली चार कंपनियों के लाइसेंस को रिन्यू करने से इनकार कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को चार शराब की कंपनियों द्वारा दायर की गई याचिका पर सुनवाई की लेकिन कंपनियों के लाइसेंस को विस्तार देने से मना कर दिया.

इस मामले की सुनवाई जस्टिस दीपक मिश्रा ने की. सुप्रीम कोर्ट ने पटना हाइकोर्ट को आदेश दिया है कि इस मामले में बेंच गठित कर दस मई के भीतर सुनवाई कर फैसला करें. कोर्ट के इस फैसले का बिहार सरकार ने भी स्वागत किया है.

मालूम हो कि शराब की चार कंपनियों ने बिहार में लाइसेंस को रिन्यू करने के लिये सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और अपने लाइसेंस को विस्तारित करने की याचिका दायर की थी.

बिहार सरकार ने इस साल जनवरी में सुप्रीम कोर्ट में पटना हाइकोर्ट के फैसले को चुनौती दी थी और चारों शराब कंपनियों के लाइसेंस पर रोक लगाने की मांग की थी. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने शराबबंदी मामले में बिहार सरकार को राहत देते हुए हाईकोर्ट के उस फैसले पर रोक लगा दी थी जिसमें हाईकोर्ट ने राज्य सरकार के शराबबंदी कानून को गैरकानूनी करार दिया था.
First published: March 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर