इंटरव्‍यू में अक्सर ये 6 गलतियां करता है हर व्‍यक्‍ति और खो बैठता है जॉब का मौका..!  

पूजा शर्मा

First published: February 2, 2016, 11:26 AM IST | Updated: February 2, 2016, 11:36 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
इंटरव्‍यू में अक्सर ये 6 गलतियां करता है हर व्‍यक्‍ति और खो बैठता है जॉब का मौका..!  
अपने पढ़ाई के दिनों से ही आप एक अच्छे कॅरिय़र का सपना देखते हैं और अच्छे कॅरियर के लिए जरूरी...

अपने पढ़ाई के दिनों से ही आप एक अच्छे कॅरिय़र का सपना देखते हैं और अच्छे कॅरियर के लिए जरूरी है अच्छा जॉब, इसलिए आप पढ़ाई करते हैं, अच्छी तैयारी करते हैं, जिससे आपके एकेडमिक्स आपके रेज्यूमे का प्लस बन सके, फिर अपने मनपसंद जॉब के लिए अप्लाई करते हैं और अगर आपका लक अच्छा हुआ, तो इन्टरव्यू काल आ जाता है। लेकिन इंटरव्यू में कुछ ऐसी बातों का ध्यान रखना होता है, जो आपके रिज्यूमे के अलावा भी ज़रूरी होती हैं। कुछ गलतियां हम अक्सर कर जाते हैं, जिनके बारे में हमें पता भी नहीं होता और उसका इफैक्ट हमारे इंटरव्यू पर पड़ जाता है।

हम आपको बताएंगे वो 6 गलतियां जो इंटरव्यू के दौरान अक्सर हो जाती हैं, तो ध्यान रखिये इन गलतियों का और करने से बचें। 

interview

1- पहली गलती जो हम अक्सर करते हैं, वो ये है कि जिस भी कम्पनी या सैक्टर में हम जॉब के लिए जा रहे हैं उसके बारे में पर्याप्त जानकारी का न होना। आप जिस भी जॉब के लिए जा रहे हैं, जिस सेक्टर की हो, उस सेक्टर के बारे में, उस कंपनी के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी होनी चाहिए। अगर आप फ्रेशर नहीं हैं, तो आपके पास अपनी पुरानी कम्पनी के बारे में भी अच्छी जानकारी होनी चाहिए। क्योंकि अगर ऐसा नहीं है, तो आप जागरूक एम्पलॉयी नहीं समझे जाएंगे।

2- दूसरी गलती या दूसरा जरूरी प्वाइंट है, आपकी बॉडी लैंग्वेज, जो कि बहुत इफेक्टिव होनी चाहिए, क्योंकि आप कुछ बोलें या ना बोलें, आपकी बॉडी लैंग्वेज आपके रूम में आते ही समझ में आ जाती है, तो अपनी पीठ सीधी रखें, गर्दन सीधी, और आत्मविश्वास से भरा चेहरा और चेहरे पर हल्की सी स्माइल, जिस वक्त से आप इंटरव्यूअर के केबिन में आते हैं और जब तक जाते हैं, आपकी बॉडी लैंग्वेज बोलती रहती है।

जब इंटरव्यूअर आपको बैठने को कहे तो चेयर के किनारे पर बैठें, जिससे आपकी पीठ सीधी और आपका आई कॉटेक्ट उससे रहे। चेयर पर टिक कर मत बैठ जाएं, क्योंकि इससे आप रिलेक्स मोड में आ जाते हैं, जो कि ठीक नहीं है, ऐसा बैठना कॉन्फिडेंस के बजाय ओवर कॉन्फिडेंस दिखाता है और अंत में कभी भी अपने आप इंटरव्यूअर से हाथ मिलाने के लिए मत बढ़ाइए, जब तक कि वह खुद न ऑफर करें। आप को कहना है थैंक्यू सर, वो भी मुस्कराहट के साथ और बाहर आ जाइए।

3- अगली जरूरी बात जो आपको याद रखना चाहिए वो ये कि अगर आप से कोई सवाल पूछा जाए, तो उसका जवाब एकदम टेक्निकल नहीं देना है, जब तक कि सवाल टेक्निकल फील्ड का ना हो, ये थोड़ा रटा-रटाया लगता है तो जो भी पूछा जाए उसे प्रेक्टिकली समझ कर अपने मन से जवाब दें, जिससे रिप्लाई रीयल लगे रोबोटिक नहीं।

अक्सर हम जवाबों को रटकर आते हैं, तो ये इंटरव्यूअर की समझ में आ जाता है और वो ऐसे बंदे से इम्प्रेस नहीं होता। अपना दिमाग यूज करिये और सहज बात करिये वो ही इम्प्रेसिव होता है।

जरूरी नहीं है कि वो फिक्स सवाल ही पूछे, तो आपका जवाब भी फिक्स नहीं होना चाहिए। ये तीसरी गलती है जो कैंडिडेट्स अक्सर करते हैं और एक तय फॉरमेट में खुद को ढालकर आते हैं।

4- चौथी गलती जो हम करते हैं वो है अपने प्रीवियस जॉब को क्रिटिसाइज़ करना। आपसे सवाल होगा कि आप अपनी पुरानी कंपनी को क्यों छोड़ना चाहते हैं, ऐसी आपको वहां क्या परेशानी है? इस सवाल के जवाब में कई लोग कह देते हैं, कि सेलरी कम हैं वहां, या बॉस बहुत गुस्सैल है, कंपनी ना इंसेंटिव्स देती है ना प्रोवीडेंट फंड्स या वहां एचआर अच्छा नहीं है आदि आदि।

हमेशा याद रखिये कि आप यहां नई शुरूआत करने आये हैं, पर इसका ये मतलब नहीं कि पुरानी कम्पनी की बुराई शुरू कर दें। क्योंकि आज आप जहां हैं वो उसी जॉब की वजह से हैं और ये आपके बारे में गलत और नेगेटिव आइडिया देता है तो किसी भी तरह की गॉसिप से बचना चाहिये, पुरानी कंपनी की बुराई करने से बचना चाहिए। इससे इन्टरव्यूअर को लगेगा कि ये आपकी आदत है और इस कम्पनी के लिये भी आपकी यही एप्रोच होगी। तो अपनी पुरानी जॉब के बारे में हमेशा पॉजीटिव रहें।

आपके जवाब इस तरह के होने चाहिए, मैं सालों से इस कंपनी में इसकी प्रेस्टीज के चलते काम करना चाहता था, अपने कैरियर में बेहतरी के लिए मैं जॉब बदलना चाहता हूं आदि आदि।

office-1

5- पांचवीं गलती अक्सर एम्पलॉयी ये करते हैं कि यदि आपसे कोई ऐसा प्रश्न किया जाए जो आपके मन का हो तो आप खुशी से उसका एक लम्बा जवाब देना शुरू कर देते हैं, जितना आपको पता है आप सब बताने लगते हैं। पर ये सही इम्प्रैशन नहीं छोड़ता, जो प्रश्न आपसे पूछा जाए उसका सटीक, सिंपल और आसान उत्तर देना चाहिये, जिससे आपकी स्मार्टनेस का पता चले ना कि आपकी जरूरत से ज्यादा जानकारी और दिलचस्पी का। तो अपने जवाब को टू द प्वॉइंट रखें।

6- आखिरी और छठी गलती जो अक्सर इंटरव्यू में होती है, वो ये कि एम्पलॉयी सारी मेहनत इंटरव्यूअर को इम्प्रेस करने में लगा देते हैं, यहां तक कि वो फ्लैटरिंग लगने लगता है, हर बात में उसकी हां में हां मिलाने लगते हैं। शायद कुछ लोगों को ये पसंद आता हो, लेकिन सच ये है कि असली प्रोफेशनल फ्लैटरिंग को बिलकुल पसंद नहीं करते, बल्कि वो ऐसे आदमी को पसंद करते हैं, जिसके पास अपना भी कोई आइडिया हो, लेकिन ऐसा भी नहीं कि वो अपने आइडिया पर ही अटक जाए। यानी विनम्र रहे, लेकिन अपनी राय जरूर रखें। किसी भी बॉस को इंटेलीजेंसी तो पसंद आती है, लेकिन एटीट्यूड बिलकुल नहीं।

तो ये कुछ बाते हैं, जिनका आप ध्यान रखेंगे और ये 6 गलतियां नहीं करेंगे, तो आपके इंटरव्यू में फेल होने की सम्भावना कम से कम पच्चीस फीसदी तो कम हो ही जाएगी। यानी कि पास होने की पच्चीस फीसदी बढ़ जाएगी।

facebook Twitter google skype whatsapp