राज्य

जगदलपुर पुलिस द्वारा 1900 स्थायी वारंटियों की धरपकड़ तेज

Vinod Kushwaha | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 20, 2017, 10:27 AM IST
जगदलपुर पुलिस द्वारा 1900 स्थायी वारंटियों की धरपकड़ तेज
जगदलपुर पुलिस द्वारा 1900 स्थायी वारंटियों की धरपकड़ तेज
Vinod Kushwaha | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 20, 2017, 10:27 AM IST
छत्तीसगढ़ में साल 2001 से जगदलपुर (बस्तर) के अलग-अलग थाना क्षेत्रों में फरार चल रहे करीब 1900 फरार वारंटियों की धरपकड़ करने के लिए पुलिस ने अभियान तेज कर दी है.


हाल ही में जगदलपुर के एसपी ने पुलिस लाइन में थानेदारों की क्लास भी ली थी, जिसमें पुराने रिकॉर्डों को खंगालने के बाद थानेदारों की कार्यशैली को लेकर सख्त नाराजगी जताई थी.



साथ ही काम में दिलचस्पी नहीं लेने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन लिए जाने की चोतावनी भी दी थी. इसके बाद पुलिस ने उन फाइलों को तलाशना शुरू किया, जिसमें 16-17 सालों से दर्जनों अपराधों में शामिल अपराधी फरार चल रहे हैं.


इनके खिलाफ कोर्ट से लिए गए स्थायी वारंट के बाद पुलिस ने दो दिनों के अंदर कोतवाली और बोधघाट थाना क्षेत्रों के 15 स्थायी वारंटियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है.


बाकी की गिरफ्तारी के लिए अलग-अलग ठिकानों में पुलिस की टीम का गठन कर भेजा जा रहा है. इसके लिए पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख ने सीएसपी मोनिका ठाकुर के निर्देशन में एक टीम भी बनाई है.


वहीं इसमें सबसे बड़ी और चौकाने वाली बात ये है कि बीते साल 2001 से लेकर अब तक के जिले में अलग-अलग थाना क्षेत्रों से 1900 स्थायी वारंटी हैं, जिनकी तलाश पुलिस को है.


अकेले जगदलपुर के कोतवाली थाने में ही 500 के आसपास स्थायी वारंटी हैं. फरार स्थायी वारंटी चोरी, लूट हत्या और रेप जैसे अपराधों में शामिल हैं. 16 सालों के बाद ये पहला मौका है, जब फरार वारंटियों की धरपकड़ के लिए पुलिस द्वाार अभियान शुरू किया गया हो. इससे जिले में हड़कंप मचा हुआ है.
First published: June 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर