बस्तर में बांध निर्माण का विरोध शुरू, ग्रामीणों ने कहा हम डूब जाएंगे

Vinod Kushwaha | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: April 21, 2017, 5:08 PM IST
बस्तर में बांध निर्माण का विरोध शुरू, ग्रामीणों ने कहा हम डूब जाएंगे
बाँध निर्माण के विरोध में ग्रामीण।
Vinod Kushwaha | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: April 21, 2017, 5:08 PM IST
छत्तीसगढ़ के बस्तर इलाके में बांध निर्माण को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हो चुका है. प्रदर्शन के पीछे ग्रामीणों का कहना है कि अगर बांध का निर्माण होगा तो हम सभी डूब जाएंगे.

कलेक्टर से लगाई गुहार
छत्तीसगढ़ के विधानसभा क्षेत्र नारायपुर और जगदलपुर ब्लॉक के बस्तर में करीब 2500 की आबादी वाले ग्राम पंचायत चेरापुर के ग्रामीणों ने कलेक्टर से मुलाक़ात की और बांध का निर्माण रोके जाने के लिए फ़रियाद की. इस बांध के विरोध में करीब 700 के आसपास की संख्या में लोग कलेक्टर से मिलने पहुंचे थे. उन्होंने मुलाक़ात के बाद कहा कि वे सदियों से खेती करके गुजारा करते रहे हैं, पर बांध बना तो हम सब डूब जायेंगे.

कप्परी नाला में बांध बनाए जाने से बढ़ी ग्रामीणों की चिंता

ग्रामीणों का कहना है कि अगर उस क्षेत्र में बांध बना तो करीब सात पारे डूबान क्षेत्र में आ जाएंगे और पूरा का पूरा गांव बांध में डूब जाएगा. स्थानीय लोगों के मुताबिक चेरापुर गांव दो पहाड़ियों के नीचे बसा है, जहां लोग कई पीढ़ियों से रह रहे हैं. पहाड़ के नीचे ही खेती-बाड़ी करके लोग गुजर बसर कर रहे हैं.

इस गांव के बीच से जाने वाली कप्परी नाला में बांध बनाए जानें को लेकर सिचाई विभाग ने दो महीने पहले ही सर्वे का काम शुरू किया है. हालांकि, उसी इलाके से लगे दूसरे गांव के लोगों ने बांध बनाए जाने की मांग की थी जिसके बाद प्रशासन ने बांध बनाए जाने का निणर्य लिया.
First published: April 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर