राज्य

सरपंच का विरोध करने पर दबंगों ने किया हुक्का-पानी बंद

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 19, 2017, 9:38 PM IST
सरपंच का विरोध करने पर दबंगों ने किया हुक्का-पानी बंद
नेहा चम्पावत (एसएसपी, महासमुंद) फोटो- ईटीवी
ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 19, 2017, 9:38 PM IST
छत्तीसगढ़ के महासमुंद में रिश्तेदार के शादी समारोह में रोड़ा अटका रहे गांव के मुखिया और सरपंच का विरोध करना एक परिवार को इस कदर भारी पड़ गया कि दबंगों ने उसका हुक्का-पानी ही बंद करा दिया.

चार माह से सामाजिक बहिष्कार का दंश झेल रहे परिवार के मुखिया ने  एसपी से इसकी शिकायत की है. शिकायतकर्ता की माने तो पांच जून को उसने पटेवा थाने में भी मामले की शिकायत की थी, पुलिस पहुंची भी, लेकिन दबंगों के घर से खा-पीकर बैरंग लौट आई.

अब पीड़ित जल्द ही न्याय नहीं मिलने पर सपरिवार आत्मघाती कदम उठाने की बात कर रहा है.
ये पूरा मामला दर्रीपाली पटेवा गांव के एक आदिवासी परिवार का है.

पीड़ित भेखराम ध्रुव ने बताया कि उसके रिश्तेदार घर पर शादी थी. जमीन विवाद के चलते शादी के ठीक पहले गांव के एक प्रभावशाली व्यक्ति और सरपंच ने रोड़ा खड़ा कर दिया,

इस दौरान उसने शादी परिवार का पक्ष लिया और विवाद से बचने शादी कार्यक्रम को दूसरे गांव में जाकर संपन्न कराया. इसी से नाराज होकर सरपंच व प्रभावशाली व्यक्ति ने उसके परिवार का हुक्का-पानी बंद करा दिया है.

बातचीत करने पर तीन हजार रुपए दंड का फरमान जारी कर दिया गया है. इसके चलते पूरा गांव उसके परिवार से कट गया है. बेटी का स्कूल जाना भी बंद हो गया है.

पीड़ित की शिकायत पर एसएसपी नेहा चंपावत ने जल्द ही कार्रवाई का आश्वासन दिया है. जिला प्रशासन मामला सामने आने के बाद अब गांव जाकर मामला सुलझाने की बात कर रहा है.

 
First published: June 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर