राज्य

पंजाब में युवाओं को फ्री में मोबाइल देगी कैप्टन सरकार, जानें पहले बजट में क्या मिला

मोहित मल्होत्रा | News18Hindi
Updated: June 20, 2017, 6:55 PM IST
पंजाब में युवाओं को फ्री में मोबाइल देगी कैप्टन सरकार, जानें पहले बजट में क्या मिला
Photo- News18Hindi.com
मोहित मल्होत्रा | News18Hindi
Updated: June 20, 2017, 6:55 PM IST
पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत बादल ने विधानसभा में कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार का पहला बजट पेश किया. कैप्टन सरकार के इस बजट में किसानों और युवाओं पर जोर दिया गया. मनप्रीत बादल ने इस बजट में युवाओं को मुफ्त मोबाइल देने की घोषणा की. कैप्टन सरकार ने इसके लिए 10 करोड़ रुपये का प्रावधान दिया.

किसानों की कर्ज माफी के लिए इस बजट में 1500 करोड़ रुपये का प्रवाधान है. मनप्रीत बादल ने बजट में कृषि के लिए 65.77 फीसदी राशि बढ़ाई. सत्ता संभालने के बाद कैप्टन सरकार का यह पहला बजट है. इससे पहले अंतरिम बजट पेश किया गया था.

मनप्रीत बादल ने बताया कि पंजाब पर दो लाख 726 करोड़ रुपये का कर्ज है और पंजाब की वित्तीय हालत काफी गंभीर है.  इसके अलावा इस बजट में मालेरकोटला की उर्दू अकादमी को 3 करोड़ देने का प्रस्ताव, पुराने कॉलेजों के लिए 10 करोड़ का बजट, रोजगार सृजन करने और प्रशिक्षण प्रोग्राम के विकास के लिए 91 करोड़ रुपए देने का प्रावधान किया गया है.

इसके साथ ही इस बजट में 5 नए कॉलेज और एक युनिवर्सिटी खोलने का भी ऐलान किया गया है. मनप्रीत बादल ने अपने बजट में कहा है कि हर साल 1 लाख नौकरियां देने का भी प्रावाधान है.

बजट की खास बातें-

किसानों का कर्ज माफ करने को लेकर 1500 करोड़ का प्रावधान
मलेरकोटला की उर्दू अकादमी को 3 करोड़ देने का प्रस्ताव
पंजाब सरकार युवाओं को मुफ्त स्मार्ट फोन देने का वायदा पूरा करेगी, इसके लिए 10 करोड़ रुपये का प्राविधान
नर्सरी से लेकर पीएचडी तक लड़कियों को मुफ्त शिक्षा
प्राइमरी स्कूल के बच्चों को मुफ्त किताबें
पुराने कॉलेजों के लिए 10 करोड़ का बजट
रोजगार सृजन करने और प्रशिक्षण प्रोग्राम के विकास के लिए 91 करोड़ रुपये
हर साल दी जाएंगी 1 लाख नौकरियां
5 नए कॉलेज, एक यूनिवर्सिटी खोलने का एलान
लुधियाना, संगरूर में नए इंडस्ट्रियल पार्क
दलितों का 50 हजार रुपये तक का कर्ज माफ

बजट पेश करने के बाद कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने बजट की तारीफ की और बजट का विरोध करने वालों पर करारे हमले किए. वहीं विपक्षी पार्टियों अकाली दल और आम आदमी पार्टी ने इस बजट को दिशाहीन और पंजाब की जनता और किसानों के साथ धोखा कर करार दिया. अकाली दल के विधायकों ने अपने प्रधान सुखबीर बादल की अगुवाई में बजट की कापियां सदन के अंदर ही फाड़ दी और सदन से वॉकआउट कर दिया.

आम आदमी पार्टी ने भी बजट के दौरान सदन से वॉकआउट कर दिया. आम आदमी पार्टी के नेता विपक्ष एचएस फुल्का का कहना है कि ये बजट किसानों और पंजाब की जनता के साथ धोखा है. बजट के अंदर सरकार कुछ भी खास बात पंजाब के किसानों या पंजाब की जनता के लिए नहीं ला सकी है.

ये भी पढ़ें

पंजाब विधानसभा में कांग्रेस विधायकों ने खोली बादलों के करप्शन की दुकान

किसानों पर मेहरबान अमरिंदर सरकार, 2 लाख रुपए तक की कर्जमाफी का ऐलान
First published: June 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर