राज्य

हादसों को न्योता दे रहा नगवाई का जर्जर पुल, दर्जनों गांव की है 'लाइफलाइन'

Arun Garg | ETV Haryana/HP
Updated: May 18, 2017, 3:34 PM IST
हादसों को न्योता दे रहा नगवाई का जर्जर पुल, दर्जनों गांव की है 'लाइफलाइन'
हिमाचल : हादसों को न्योता दे रहा नगवाई पुल
Arun Garg | ETV Haryana/HP
Updated: May 18, 2017, 3:34 PM IST
हिमाचल प्रदेश के कुल्लू और मंडी जिले की सीमा पर स्थित नगवाई पुल इन दिनों हादसों को न्योता दे रहा है. व्यास नदी पर बना यह पुल कई साल पुराना है. यह पुल कुल्लू के दर्जनों गांव के हजारों लोगों को सालों से अपनी सेवाएं दे रहा है.

अब यह जर्जर हो चला है और कभी भी यहां बड़ी दुघर्टना हो सकती है. बावजूद इसके संबंधित विभाग का कोई ध्यान नहीं जा रहा है.  नगवाई पंचायत के पूर्व प्रधान रोशन लाल का कहना है कि पुल पर लगाए गए लकड़ी के फट्टे (वुडन स्ट्रिप) कई स्थानों पर टूट गए हैं. इससे कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है. पुल के पीलरों में भी कई स्थानों पर दरारें आ चुकी हैं. इतना ही नहीं पुल की रेलिंग भी कई स्थानों पर टूट गई हैं. इससे लोगों का ब्यास नदी में गिरने का खतरा बना रहता है.

स्थानीय निवासी ठाकुर दास ने कहा कि अगर लोग इस पुल से वाहन ना लेकर जाएं तो उन्हें 15 से 20 किलोमीटर का और ज्यादा सफर तय करना पड़ता है. नगवाई पुल की हालत ऐसी हो चुकी है  कि जब कोई वाहन इससे गुजरता है तो यह झूले की तरह हिलने लगता है.

इस क्षेत्र के लोगों को दूसरा कोई रास्ता नहीं होने के कारण अपनी जान जोखिम में डालकर मजबूरन पुल से गुजरना पड़ता है. स्थानीय लोगों ने संबंधित विभाग और सरकार से मांग की है कि पुल की मरम्मत जल्दी से जल्दी कराई जाए.
First published: May 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर