राज्य

धार्मिक स्थल के पास खोले जा रहे शराब के ठेके, ग्रामीणों न कहा नहीं बिकने देंगे

ETV Haryana/HP
Updated: April 21, 2017, 10:29 AM IST
धार्मिक स्थल के पास खोले जा रहे शराब के ठेके, ग्रामीणों न कहा नहीं बिकने देंगे
शराब ठेके का विरोध करती ग्रामीण महिलाएं
ETV Haryana/HP
Updated: April 21, 2017, 10:29 AM IST
हिमाचल में सुंदरनगर के रिहायशी इलाके में शराब के ठेके खोलने को लेकर विरोध शुरू हो गया है. गुरुवार को सुंदरनगर के डढियाल समेत नगौण खड्ड में शराब के ठेके खोलने को लेकर लोगों ने कड़ा विरोध जताया है. स्थानीय लोगों ने शराब के ठेके लगने वाली जगह पर जमकर हंगामा किया.

एसडीएम ऑफिस के बाहर गुरुवार को ग्रामीणों ने जमकर नारेबाजी की. उसके बाद, एसडीएम सुंदरनगर राजीव कुमार को शराब के ठेके को हटाने के लिए ज्ञापन भी सौंपा गया. शराब ठेके के खिलाफ मुहिम चला रहे लोगों का कहना है कि इस क्षेत्र के 60 मीटर के दायरे में अस्पताल और स्कूल हैं. शराब का ठेका लगाने की जो जगह तय की गई है.

स्थानीय निवासियों का कहना है कि बीएसएल परियोजना के रजवायर प्वाईंट के विपरीत शराब का ठेका खोला गया है. सुंदरनगर के निवासियों के लिए बीएसएल जलाशय ही सुबह शाम सैर सपाटा करने की एक मात्र  जगह है. अपने कामकाज से निवृत्त होकर दिनभर की थकान मिटाने शहर के निवासी जलाशय किनारे पहुंचते हैं. यहां ताजगी भरी हवा खाआकर तरोताजा होकर अपने घर लौटती है. ऐसे में अगर यह इलाका भी नशेड़ियों की चपेट में आ जाएगा तो बच्चे, औरतें और बुजुर्ग कहां जायेंगे?
First published: April 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर