गुमला में जारी है नक्सलियों का आतंक, दो दिनों में दो की हत्या

Sushil Kumar Singh | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 20, 2017, 10:58 PM IST
गुमला में जारी है नक्सलियों का आतंक, दो दिनों में दो की हत्या
ETV News
Sushil Kumar Singh | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 20, 2017, 10:58 PM IST
गुमला में एक बार फिर नक्सलियों ने पुलिस को खुलेआम चुनौती देते हुए संदीप यादव नामक पारा शिक्षक को मौत के घात उतार दिया है. वहीं घटना के बाद पुरे इलाके में खौफ का माहौल बना हुआ है.

गुमला के एसपी चंदन झा ने घटना के बाद इलाके में कैम्प कर छापामारी कर रहे हैं.

गुमला जिला बिगत कई महीनों से नक्सलियों की वारदात को लेकर पुरी तरह से शांत था. लेकिन बिगत दो दिनों में दो व्यक्ति की निर्मम हत्या कर नक्सलियों ने पुलिस को खुलेआम चुनौती दी है. दो दिन पूर्व पालकोट के लुटवा गांव में पुलिस मुखबीर बताकर एक ग्रामीण की हत्या कर दी थी. जिसकी छानबीन पुलिस की तरफ से जारी ही थी कि एक बार फिर सदर थाना क्षेत्र के कोटाम पुलिस पीकेट से महज कुछ दुरी पर ठाकुर झड़िया गांव में पारा शिक्षक संदीप यादव को नक्सलियों ने मौत के घाट उतार दिया.

मृतक के भाई की मानें तो चार वर्दीधारी नक्सली हथियार से लैश होकर आए. मृतक को उसी के मोटरसाइकिल पर ले गये और गोली मार दी. वहीं उसकी मोटरसाइकिल को भी आग के हवाले कर दी. गांव के एक पारा शिक्षक की हत्या की घटना की सूचना ने पुरे इलाके के लोगों को भय में डाल दिया है. कोई भी खुलकर कुछ बोलने की स्थिति में नहीं है.

लोग दबी जुबान में ही कुछ बता पा रहे हैं. वहीं घटना की सूचना मिलने के बाद एसपी चंदन झा घटनास्थल पर पहुंचे. इस घटना को चुनौती के रूप में लेते हुए इलाके में छापेमारी तेज करने का निर्देश दिया है.

आज से छह साल पहले नक्सलियों की सक्रियता इतनी अधिक थी कि नक्सली आये दिन हत्या की घटना को अंजाम देते थे. लेकिन बीच के कालखंड में एएसपी पवन सिंह व एसपी भीमसेन टुटी की सक्रियता ने नक्सलियों को पूरी तरह से बैकफुट पर ले आया था, लेकिन बिगत दो-चार दिनों में जिस तरह से घटना हो रही है वह लोगों को पुराने दिनों की याद दिला रही है.
First published: March 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर