राज्य

डिस्टलरी तालाब के मसले पर फिर भिड़े मेयर-डिप्टी मेयर

Amit Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: May 18, 2017, 1:35 PM IST
डिस्टलरी तालाब के मसले पर फिर भिड़े मेयर-डिप्टी मेयर
मेयर आशा लकड़ा
Amit Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: May 18, 2017, 1:35 PM IST
राजधानी रांची को बुनियादी सुविधा मुहैया करानेवाला रांची नगर निगम विकास कार्य के लिए कम विवादों के लिए ज्यादा जाना जाता है. नगर निगम मे एकबार फिर विवाद गहराने लगा है.

तलाब का सौन्दर्यीकरण बना वजह

पहले ब्राईट नियॉन पर विवाद गहराया तो मेयर व डिप्टी मेयर तथा नगर आयुक्त के बीच इतनी तल्खी बढ़ी कि नगर विकास मंत्री से लेकर सीएम तक को बीच बचाव के लिए उतरना पड़ा. अब एकबार फिर मेयर व डिप्टी मेयर आमने सामने हैं. इसबार वजह बना है रांची का डिस्टलरी तालाब का सौन्दर्यीकरण. हालांकि मेयर आशा लकड़ा ने कहा है कि गुणवता से कोई समझौता नहीं होगा. चाहे इसके लिए कोई भी कितना दबाव क्यों न बनाए. कहा कि जनता का पैसा पानी में नहीं बहने दिया जाएगा.

 विवाद की जड़

दरअसल रांची का डिस्टलरी तालाब के सौन्दर्यीकरण को लेकर उच्च न्यायालय ने भी कई बार गंभीरता दिखाई तो मेयर ने तालाब का निरीक्षण किया. डिस्टल्री तालाब का सौन्दर्यीकरण में लगभग दो करोड़ रुपए के लागत से पहले फेज का काम होना था. मेयर के मुताबिक मात्र 35 प्रतिशत काम ही हो पाया है,जबकि अबतक ये पूरा हो जाना चाहिए था. अब मेयर पहल चरण के पूरा होने के बाद दूसरे चरण की राशि स्वीकृति की बात कर रही हैं. वहीं डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय  का कहना है कि निर्माण कंपनी पर जुर्माना ठोकें पर काम नो रोका जाए.  डिप्टी मेयर ने आरोप लगाया कि मेयर व्यक्तिगत खुन्नस के कारण विकास कार्य को अवरुद्ध कर रही हैं.

बहरहाल, एक तरफ राजधानी में पड़ रही भीषण गर्मी और चिलचिलाती धूप से परेशान आम लोग को समय पर पानी नहीं मिल रहा है तो विकास का ढोल पीट रहे मेयर व डिप्टी मेयर की आपसी लड़ाई एकबार फिर नगर निगम की छवि धूमिल कर रही है.
First published: May 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर