राज्य

एमपी में किसानों की खुदकुशी का सिलसिला जारी, अब नरसिंहपुर में अन्नदाता ने दी जान

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 20, 2017, 2:57 PM IST
एमपी में किसानों की खुदकुशी का सिलसिला जारी, अब नरसिंहपुर में अन्नदाता ने दी जान
सांकेतिक तस्वीर
ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 20, 2017, 2:57 PM IST
मध्यप्रदेश में किसान आंदोलन शुरू होने के बाद से हर दिन किसानों की खुदकुशी की खबरें सामने आ रही है. अब नरसिंहपुर जिले में किसान लक्ष्मीप्रसाद लोधी ने जहर खाकर जान दे दी. वहीं, होशंगाबाद जिले में चार दिन पूर्व खुद को जिंदा जलाने वाले एक अन्य किसान की इलाज के दौरान मौत हो गई.

जानकारी के अनुसार, धमना गांव में किसान लक्ष्मीप्रसाद लोधी ने गुरुवार सुबह जहर खा लिया. तबीयत बिगड़ने पर परिजन लक्ष्मीप्रसाद को जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, तब तक उनकी मौत हो चुकी थी.

परिजनों के मुताबिक,
- मृतक किसान पर यूको बैंक का तीन लाख रुपए का कर्ज बकाया था.

-दो माह पहले तीन एकड़ के गेहूं की खड़ी फसल आग की वजह से जलकर खाक हो गई थी.
-मुआवजे को लेकर किसान कई दिनों से तहसील कार्यालय के चक्कर लगा रहा था.
-फसल खराब होने की वजह से किसान बिजली का बिल भी नहीं चुका पाया.
-बिल समय पर नहीं चुकाने की वजह से बिजली विभाग ने खेत में कनेक्शन काट दिया.

परिजनों का कहना है कि कर्ज और सरकारी व्यवस्थाओं से हारकर लक्ष्मीप्रसाद ने खुदकुशी की है. वह कलेक्टर के आने तक जिला अस्पताल से शव लेकर नहीं जाने की बात पर अड़े हुए है.

वहीं, किसान की मौत को लेकर जिले में राजनीतिक बयानबाजी भी शुरू हो गई है. स्थानीय कांग्रेसी नेताओं ने सरकारी सिस्टम के गैर जिम्मेदाराना रवैये को किसान की खुदकुशी की वजह बताया है.
First published: June 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर