विदिशा में एक पलंग पर 6 से 7 मरीज़ करा रहे इलाज

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: May 20, 2017, 11:49 PM IST
विदिशा में एक पलंग पर 6 से 7 मरीज़ करा रहे इलाज
एक बेड पर मरीजों की भरमार फोटो- ईटीवी 
ETV MP/Chhattisgarh
Updated: May 20, 2017, 11:49 PM IST
मध्य प्रदेश सरकार आम आदमी के लिए कितनी भी योजनाएं चला दे लेकिन क्या धरातल पर वे योजनाएं सही तरीके से क्रियान्वित हो पा रही हैं.इसकी स्थिति विदिशा के जिला अस्पताल में देखकर जाना जा सकता है.

विदिशा को वीआईपी जिला कहा जाए तो भी कम होगा. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज यहां से सांसद हैं तो सीएम शिवराज सिंह की कर्मभूमि है. विदिशा और लगभग हर हफ्ते सीएम विदिशा आते भी हैं. लेकिन जिला अस्पताल के महिला वार्ड मे एक पलंग पर 6 से 7 मरीज़ इलाज़ करवा रहे हैं, जो ना सो सकते हैं और ना ही बैठ सकते हैं.

इतना ही नहीं मरीजों को पानी भी नहीं मिल पा रहा है. ऐसी भारी परेशानियों के बीच मरीज़ कैसे स्वस्थ हो सकेगा यह सोचने वाली बात है. भीषण गर्मी में भी बिना पंखों और कूलर के मरीज़ परेशान हो रहे हैं. मरीज़ की तड़प को देखकर परिजन खुद पैसे खर्च कर अस्पताल मे निजी कूलर पंखें लगा कर राहत की सांस ले रहे हैं.

जिला अस्पताल मे पिछले साल ही लगभग 72 कूलर मरीजों का लिए लाए गए थे. इन सारी बातों से दूर जिला अस्पताल के जिम्मेदार अधिकारी सिविल सर्जन डॉ.शेखर जालवनकर कह रहे हैं कूलर से मरीज़ को संक्रमण फ़ैल सकता है इसलिए कूलर हटवा दिए गए हैं. साथ ही प्रदेश भर के अस्पतालों से कूलर हटवाने की अपील भी कह रहे हैं.

 
First published: May 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर