प्यार में पड़ा नेत्रहीन जोड़ा, शादी के लिए घर छोड़ा

Updated: April 26, 2012, 8:49 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

बडवानी। पहली मुलाकात में हुए इश्क को अंजाम देते हुए एक नेत्रहीन प्रेमीयुगल ने मध्यप्रदेश के बडवानी जिले के सेंधवा में विधिवत विवाह कर लिया।

होशंगाबाद जिले की इटारसी निवासी 29 वर्षीय विद्या ने बुधवार को सेंधवा के गायत्री मंदिर परिसर में अपने प्रेमी प्रवीण (21) से विवाह रचा लिया। इस मौके पर प्रशासनिक अधिकारी और अनेक नागरिक मौजूद थे।

प्यार में पड़ा नेत्रहीन जोड़ा, शादी के लिए घर छोड़ा
पहली मुलाकात में हुए इश्क को अंजाम देते हुए एक नेत्रहीन प्रेमीयुगल ने मध्यप्रदेश के बडवानी जिले के सेंधवा में विधिवत विवाह कर लिया।

जिले के पानसेमल तहसील के आमझिरी गांव का प्रवीण दृष्टिबाधितों के लिए काम करता है। वह किसी काम के सिलसिले में इटारसी गया था और वहां उसकी मुलाकात विद्या से हुई। पहली ही मुलाकात के बाद दोनों का इश्क परवान चढा और वह विवाह के लिए तैयार हो गए, लेकिन विद्या के परिजन इस बात के लिए राजी नहीं थे।

विद्या विद्रोह करके प्रवीण के पास आ गई और दोनों ने पुलिस व प्रशासन के समक्ष पहुंचकर विवाह कराने का अनुरोध किया। इस पर अनुविभागीय दंडाधिकारी संतोष वर्मा ने दोनों के विवाह की पहल की और कल दोनों का विधिवत विवाह हो गया। इस दौरान नागरिकों ने उन्हें आशीर्वाद, शुभकामनाएं और उपहार प्रदान किए।

वर्मा ने कहा कि नवविवाहित जोड़े को शासन की ओर से निःशक्तजन विवाह प्रोत्साहन योजना के तहत कुल 50 हजार रुपए की राशि देने का प्रस्ताव भेजा गया है। उधर प्रवीण को भी उम्मीद है कि उसे नौकरी मिल जाएगी और वह सुखी जीवन व्यतीत करेगा।

First published: April 26, 2012
facebook Twitter google skype whatsapp