सी के अनिल को मोदी ने बताया ईमानदार, कहा- सीएम प्रतिष्ठा का नहीं बनाये प्रश्न

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: April 20, 2017, 7:53 PM IST
सी के अनिल को मोदी ने बताया ईमानदार, कहा- सीएम प्रतिष्ठा का नहीं बनाये प्रश्न
etv pic.
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: April 20, 2017, 7:53 PM IST
आईएएस सीके अनिल के राष्ट्रपति और पीएम को पत्र भेजने पर बिहार की राजनीति गरमा गई है. बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि यह गंभीर मामला है. सी के अनिल ईमानदार अधिकारी हैं. शहाबुद्दीन के गिरफ्तारी में सीके अनिल ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री प्रतिष्ठा का प्रश्न नहीं बनाये और पूरे मामले की सीबीआई जांच कराएं.

उधर, इस मामले में जीतन राम मांझी ने भी कहा कि हम तो पहले से कह रहे हैं कि सरकार ईमानदार और दलित अधिकारी को परेशान कर रही है. पूरे मामले में सीबीआई जांच होनी चाहिए.

'फरार' आईएएस सीके अनिल ने राष्ट्रपति और पीएम को लिखा पत्र, नीतीश पर लगाये गंभीर आरोप

हालांकि जदयू के प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि आईएएस एसोसिएशन ने अपना ज्ञापन वापस ले लिया है.और यह किसी अधिकारी का व्यक्तिगत मामला है. सरकार और आईएएस अधिकारियों में तालमेल है.  सरकार सिर्फ दोषियों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है.

ये भी पढ़ें, IAS सीके अनिल और IPS रत्‍न संजय ने दबोचा था शहाबुद्दीन का गिरेबान

आइएएस सी के अनिल के पत्र के बाद अब यह देखना काफी दिलचस्प है कि पूरे मामले पर केंद्र सरकार का क्या रुख होता है.

गौरतलब है कि सीके अनिल ने एक पत्र जारी किया है जिसमें आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार के इशारे पर उन्हें फंसाने की साजिश हो रही है. उन्होंने पूरे मामले में राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री कार्यालय और केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह को पत्र लिख कर सीबीआई जांच की मांग की है.
First published: April 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर