सीआईएसएफ के जवान को दी गई अंतिम विदाई, पत्नी ने की जांच की मांग

ETV Bihar/Jharkhand

First published: January 14, 2017, 5:26 PM IST | Updated: January 14, 2017, 5:30 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
सीआईएसएफ के जवान को दी गई अंतिम विदाई, पत्नी ने की जांच की मांग
मृत जवान का शव

औरंगाबाद के एनटीपीसी कैम्प में हुई गोलीबारी में मारे गये सीआईएसएफ के जवान अमरनाथ मिश्र का अंतिम संस्कार दरभंगा के उनके पैतृक गांव कोर्थु में किया गया.

जैसे ही जवान का शव गांव में पंहुचा पूरा गांव मातम में डूब गया. परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल था तो रिश्तेदारों के भी आंसू रुकने का नाम नहीं ले रहे थे. मृतक की पत्नी संगीता देवी अपने पति के शव के पास रो-रो कर कई बार बेहोश होती रही.

तिरंगे में लिपटे जवान के शव के अंतिम संस्कार में सैकड़ो ग्रामीण शामिल हुए. इससे पहले सीआईएसएफ के जवान को गार्ड ऑफ ऑनर के साथ श्रद्धांजलि भी दी गयी. मृतक जवान की पत्नी संगीत देवी ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि गोली चलाने वाले जवान का उग्रवादियों से सांठ-गांठ है और पूरी प्लानिंग के साथ यह हत्या की गयी है.

उन्होंने घटना की जांच कराने की मांग की. फोर्स के अधिकारी अरविन्द कुमार ने अपनी संवेदना परिवार के प्रति दिखाते हुए ऐसी घटना को बेहद दुखी बताया साथ ही कहा कि ऐसी घटना अचानक भले ही हुई हो पर ऐसी घटना नहीं होनी चाहिए. मालूम हो कि गुरुवार को बिहार के औरंगाबाद में सीआईएसएफ के एक जवान ने नाराजगी के बाद फायरिंग कर अपने चार साथियों को मौत के घाट उतार दिया था.

facebook Twitter google skype whatsapp