स्वतंत्रता सेनानी की विधवा को पीएमसीएच ने एडमिट करने से किया इंकार

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: April 21, 2017, 4:26 PM IST
स्वतंत्रता सेनानी की विधवा को पीएमसीएच ने एडमिट करने से किया इंकार
स्वतंत्रता सेनानी पमेश्वर सिंह की पत्नी दौलती देवी ( News18)
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: April 21, 2017, 4:26 PM IST
चंपारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह पर नीतीश सरकार स्वतंत्रता सेनानियों के घरवालों को सम्मानित कर अपनी पीठ थपथपाई रही है लेकिन दूसरी तरफ बिहार सरकार के अस्पताल के डॉक्टरों ने  शुक्रवार को एक स्वतंत्रता सेनानी की विधवा का इलाज करने से ही इंकार कर दिया.

ये सब कुछ हुआ बिहार के सबसे बड़े अस्पताल पीएमसीएच के कैंपस में बने इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान में.

चंपारण सत्याग्रह समारोह में राष्ट्रपति ने कहा- भारतीय होने पर गर्व करें युवा

डॉक्टरों ने बेशर्मी से एक स्वतंत्रता सेनानी की विधवा दौलती देवी का इलाज करने से इंकार कर दिया. हद देखिए कि डॉक्टरों ने सब कुछ जानते हुए भी दौलती देवी के लिए बेड खाली न होने का हवाला दे दिया. जब वहां ईटीवी/ न्यूज18 की टीम पहुंची तो दौलती देवी अस्पताल के बाहर गाड़ी में पड़ी हुई थीं.

आपको बता दें कि दौलती देवी स्वतंत्रता सेनानी डॉक्टर परमेश्वर सिंह की विधवा हैं और गया के डुमरिया की रहनेवाली हैं.

गौरतलब है कि अभी हाल ही में नीतीश सरकार ने देशभर के स्वतंत्रता सेनानियों और उनके परिजनों को सम्मानित करने के लिए चंपारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह के मौके पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया था. इस कार्यक्रम में बिहार और देशभर के स्वतंत्रता और उनके परिजनों को सम्मानित किया गया था. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी भी कार्यक्रम में शामिल हुए थे.
First published: April 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर