कबाड़ी की आड़ में चल रहा था 'मौत' का कारोबार, 10 करोड़ की नकली दवा के साथ 3 गिरफ्तार

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: April 22, 2017, 3:26 PM IST
कबाड़ी की आड़ में चल रहा था 'मौत' का कारोबार, 10 करोड़ की नकली दवा के साथ 3 गिरफ्तार
पटना से बरामद नकली दवाएं (news18)
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: April 22, 2017, 3:26 PM IST
बिहार की राजधानी पटना में बड़े पैमाने पर अवैध और नकली दवाओं के कारोबार का भंडाफोड़ किया है. पटना पुलिस और ड्रग विभाग की टीम ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर पटना के जक्कनपुर से करोड़ों रुपये की नकली दवाएं जब्त की हैं. इस मामले मे 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

जानकारी के मुताबिक पकड़ी गई नकली दवा की  बाजार में कीमत लगभग 10 करोड़ के पास हैं. एक्सपायर्ड दवाओं की बोतल में केमिकल मिलाकर बेचा जाता था. इसका सरगना रमेश पाठक है जो कबाड़ी का धंधा करता है और कबाड़ी में लाई गईं एक्सपायर्ड दवाओं के बोतल में नकली दवाएं डालकर बेचता है.

पटना के एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि नकली दवा और एक्सपायरी डेट की दवा को नये लेबल लगाकर सप्लाई करनेवाले गिरोहों का पुलिस और दवा विभाग की टीम ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर 3 लोगों को गिरफ्तार किया है. उनके पास से काफी मात्रा में विभिन्न कंपनियों के नकली दवा मिली है जिसमें नया लेबल लगाकर सप्लाई की जाती थी.

राजधानी से बरामद नकली दवाएं
राजधानी से बरामद नकली दवाएं


नकली दवाओं की सप्लाई करने वाले गिरोह का सरगना रमेश पाठक है जो कबाड़ी में फेंकने के नाम पर ले जाता था और उसमें नकली केमिकल्स मिलाकर दवा को बाजार में सप्लाई करता था. पटना के अलावा कई जिलों में भी नकली दवाओं की सप्लाई की जाती थी.
First published: April 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर