रोजाना हो रहा है 570 करोड़ का घाटा: इंडियन ऑयल


Updated: May 8, 2012, 5:53 AM IST
रोजाना हो रहा है 570 करोड़ का घाटा: इंडियन ऑयल
इंडियन ऑयल के डायरेक्टर (फाइनेंस) पी के गोयल का कहना है कि फिलहाल तेल मार्केटिंग कंपनियों को रोजाना 570 करोड़ रुपये का घाटा हो रहा है।

Updated: May 8, 2012, 5:53 AM IST
नई दिल्ली। डॉलर के मुकाबले रुपये में आई थोड़ी मजबूती से तेल मार्केटिंग कंपनियों की चिंताएं कम हुई हैं। साथ ही कच्चे तेल में आई नरमी की खबरों ने तेल मार्केटिंग कंपनियों को राहत पहुंचाने का काम किया है। फिर भी इंडियन ऑयल के डायरेक्टर (फाइनेंस) पी के गोयल का कहना है कि फिलहाल तेल मार्केटिंग कंपनियों को रोजाना 570 करोड़ रुपये का घाटा हो रहा है।
पी के गोयल के मुताबिक फिलहाल पेट्रोल पर 7.17 रुपये प्रति लीटर, डीजल पर 13.91 रुपये प्रति लीटर, केरोसिन पर 31.49 रुपये प्रति लीटर और एलपीजी पर 480.50 रुपये प्रति सिलिंडर का घाटा तेल मार्केटिंग कंपनियों को उठाना पड़ रहा है। पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतें ना बढ़ाने की सूरत में आईओसी ने सरकार को एक्साइज ड्यूटी घटाने के लिए अर्जी दी है ताकि घाटा कम हो सके।

पी के गोयल ने बताया कि डॉलर के मुकाबले 1 रुपये की मजबूती से तेल मार्केटिंग कंपनियों का कुल घाटा 4,700 करोड़ रुपये से कम होता है। वहीं कच्चे तेल में 1 डॉलर की नरमी से इंडियन ऑयल को 10.8 लाख डॉलर का फायदा होता है। इंडियन ऑयल रोजाना 10.8 लाख बैरल कच्चा तेल खरीदता है।
First published: May 8, 2012
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर