RIL, इंफोटेल और तिकोना की 4जी सर्विस इस साल

hindi.moneycontrol.com
Updated: February 25, 2013, 5:30 AM IST
RIL, इंफोटेल और तिकोना की 4जी सर्विस इस साल
सरकार ने टेलीकॉम कंपनियों के ब्रॉडबैंड स्पेक्ट्रम को अब वॉयस सर्विस दे सकने के विरोध को खारिज कर दिया है।
hindi.moneycontrol.com
Updated: February 25, 2013, 5:30 AM IST
नई दिल्ली। सरकार ने टेलीकॉम कंपनियों के ब्रॉडबैंड स्पेक्ट्रम को अब वॉयस सर्विस दे सकने के विरोध को खारिज कर दिया है। वहीं आरआईएल, इंफोटेल और तिकोना ने इस साल के अंत तक अपनी 4जी सर्विस लॉन्च करने की तैयारी कर ली है। इन दो नए कंपनियों के 4जी सर्विस लॉन्च करने से टैरिफ सस्ते होने की उम्मीद है। टेलीकॉम विभाग ने ब्रॉ़डबैंड वायरलेस स्पेक्ट्रम कंपनियों को वॉयस कॉल देने की मंजूरी के फैसले के खिलाफ जीएसएम कंपनियों के विरोध को गलत ठहराया है।

सरकारी सूत्रों के मुताबिक किसी कंपनी को फेवर नहीं किया गया है। पुरानी कंपनियां पहले से ही बीडब्लूए स्पेक्ट्रम पर वॉयस सर्विस दे सकती हैं। अब नए यूनीफाइड लाइसेंस के तहत सभी कंपनियां वॉयस सर्विस दे सकेंगी। ब्रॉ़डबैंड कंपनियों के टेलीकॉम बिजनेस में आने से ब्रॉ़डबैंड और मोबाइल टैरिफ नीचे की तरफ जा सकते हैं। आरआईएल इंफोटेल और तिकोना इस साल अपनी सर्विस हाई स्पीड ब्रॉ़डबैंड यानि 4जी सर्विस लॉन्च करने की तैयारी कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक आरआईएल इंफोटेल अपनी सर्विस दिसंबर तक लॉन्च करेगा।

आरआईएल इंफोटेल ग्राहकों को सस्ती दरों पर वॉयस, एसएमएस, वीडियो सर्विस देने की तैयारी में है। यानि ग्राहकों को हैंडसैट पर डाटा और वॉयस दोनों मिलेंगे। आरआईएल अकेली कंपनी है जिसके पास पूरे देश में ब्रॉ़डबैंड वायरलेस स्पेक्ट्रम है। आरआईएल की तरह तिकोना भी ब्रॉ़डबैंड के साथ वॉयस कॉल देना चाहती है। तिकोना भी 2013 के आखिर तक 4जी सर्विस लेकर आ रहा है। तिकोना के पास गुजरात, उत्तर प्रदेश, राजस्थान समेत 5 बड़े सर्किल में ब्रॉ़डबैंड वायरलेस स्पेक्ट्रम है।

इंफोटेल और तिकोना का सीधा मुकाबला भारती एयरटेल से होगा जो 8 सर्किल में से कोलकता, बंगलुरू और पुणे में 4जी सर्विस शुरू कर चुका है। हालांकि भारती एयरटेल समेत दूसरी जीएसएम कंपनियों की बॉडी सीओएआई ये मानने को तैयार नहीं कि ज्यादा प्लेयर्स आने से दाम घटेंगे। रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी इंफोटेल ने संचार मंत्रालय से वायरलेस नेटवर्क पर वॉयस टेस्टिंग की मांग की है। टेस्टिंग के लिए कंपनी ने टेलीकॉम विभाग से 10,000 नंबरिंग सीरिज की मांग की है। कंपनी ये टेस्टिंग मुंबई, दिल्ली और गुजरात सर्किल में करना चाहती है।

कंपनी दिल्ली, मुंबई, जयपुर, गुजरात, सूरत, पुणे समेत करीब एक दर्जन शहरों में पहले 4जी सर्विस लॉन्च करना चाहती है। पहली बार अमेरिकी 4जी टेक्नोलॉजी एलटीई का इस्तेमाल करके इंटरनेट के जरिए कोई कंपनी वॉयस देगी। वहीं तिकोना भी बड़े शहरों से शुरूआत करना चाहती है। कंपनी सूत्रों के मुताबिक टेक्नोलॉजी कंपनियों से बात आखिरी दौर में है। कंपनी इंटरनेट के जरिए कॉल और डेटा दोनों देना चाहती है।


First published: February 25, 2013
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर