महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने उठाए ये कदम

News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 2:54 PM IST
महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने उठाए ये कदम
Women Entrepreneurs को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने उठाए ये कदम. (File Photo)
News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 2:54 PM IST
इकनोमिक ग्रोथ में महिलाओं का योगदान बढ़ाने के लिए भारत सरकार ने कई महत्वपूर्ण योजना बनाई हैं, जिससे वीमेन आंत्रप्रेन्योरशिप को बढ़ावा मिले. इन योजनाओं के तहत सरकार उन महिलाओं को कई तरह के प्रोत्साहन दे रही है, जो कि खुद अपना कारोबार कर रही हैं.

महिला उद्यमियों को मिल रहीं ये सहूलियतें
MSME मंत्रालय ने महिला उद्यमियों की मुश्किलों को सुलझाने और उन्हें हर संभव मदद उपलब्ध कराने के लिए एक हेल्पलाइन शुरू की हैं. सरकार आंत्रप्रेन्योरशिप डिवेलपमेंट प्रोग्राम के तहत महिलाओं को शिक्षित करने के साथ उनकी स्किल्स बढ़ाने पर फोकस कर रही है. सरकार ने महिला उद्यमियों को उनके कारोबार से होने वाले फायदे पर तीन साल तक 100% टैक्स छूट दी है.

इसके अलावा, केंद्र और राज्य सरकारों की कई अन्य योजनाएं भी हैं, जो कि गरीब महिलाओं को रोजगार का जरिया उपलब्ध कराती हैं.

महिला उद्यमियों के लिए स्कीमें-

अन्नपूर्णा योजना:
यह योजना उन महिला उद्यमियों के लिए है जो खानपान से जुड़ी इकाइयां लगाना चाहती हैं. इस बिज़नेस को शुरू करने के लिए महिलाओं को अधिकतम 50,000 रुपये का कंपोजिट टर्म लोन देने की योजना है. इस लोन को 36 मासिक किश्तों में लौटाने की सुविधा दी गई है.

स्त्री शक्ति पैकेज:
यह पैकेज उन महिलाओं के लिए उपलब्ध है, जिनके पास फर्म या व्यवसाय में 50% ओनरशिप होती है. स्टेट बैंक की ज्यादातर शाखाएं यह पैकेज देती हैं. इस योजना के तहत अगर किसी महिला ने बिजनेस के लिए 2 लाख रुपये से ज्यादा का लोन लिया है, तो उसे लोन के ब्याज पर 0.50% की रियायत दी जाएगी.

भारतीय महिला बैंक:
यह बैंक महिलाओं को नए उद्यम शुरू करने के लिए समर्थन देता है और उन्हें इसके लिए प्रोत्साहित भी करता है. (भारतीय महिला बैंक का विलय एसबीआई में हो चुका है)

भारतीय महिला बैंक श्रृंगार: ब्यूटी पार्लर, सलून और स्पा खोलने के लिए यह बैंक बिना कोई चीज गिरवी रखे 1 करोड़ रुपए का लोन देता है. यह लोन 12.25% की ब्याज दर के साथ 7 साल अवधि के लिया जाता है.

भारतीय महिला बैंक अन्नपूर्णा:  इसके तहत महिला उद्यमियों को बिना कोई चीज गिरवी रखे 1 करोड़ रुपए का लोन दिया जाता है, जो उन्हें 11.75% की ब्याज दर के साथ 3 साल अवधि के दिया जाता है.

भारतीय महिला बैंक परवरिश: डे केयर सेंटर्स खोलने के लिए भारतीय महिला बैंक 1 करोड़ रुपए का लोन देता है. जो 12.25% की ब्याज दर के साथ 5 साल अवधि के लिए दिया जाता है.

देना शक्ति और उद्योगिनी योजना
यह ऋण एग्रीकल्चरल एक्टिविटीज, रिटेल सेक्टर और छोटे बिजनेस शुरू करने के लिए महिलाओं को देना बैंक और पंजाब एंड सिंध बैंक देते हैं. इन सेक्टर्स में बिजनेस शुरू करने के लिए लोन लेने पर महिलाओं को 0.25% कम ब्याज देना पड़ता है. कई बैंक ऐसे भी हैं, जो अलग-अलग ब्याज दरों पर महिला उद्यमियों को लोन देते हैं.

महिला उद्योग निधि योजना
यह योजना पंजाब नेशनल बैंक ने शुरू की है. यह योजना मुख्य रूप से स्मॉल-स्केल सेक्टर के बिजनेस शुरू करने के लिए है. योजना के तहत महिलाओं को 10 लाख रुपए का लोन मिल सकता है, जो उन्हें 10 साल में चुकाना होगा. इस लोन की ब्याज दरें बाजार की दरों पर निर्भर हैं जो समय-समय पर बदलती रहती हैं.

 
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर