10 रुपये के कई सिक्‍के पर नकली कोई नहीं

भाषा
Updated: April 10, 2017, 12:26 PM IST
10 रुपये के कई सिक्‍के पर नकली कोई नहीं
देश में दस रूपये के विभिन्न प्रकार के सिक्कों पर जनता के बीच भ्रम की स्थिति को खत्म करने के लिए रिजर्व बैंक ने संज्ञान लिया है
भाषा
Updated: April 10, 2017, 12:26 PM IST
देश में दस रुपये के विभिन्न प्रकार के सिक्कों पर जनता के बीच भ्रम की स्थिति को खत्म करने के लिए रिजर्व बैंक ने संज्ञान लिया है. रविवार को बैंक ने कहा है कि कोई भी 10 का सिक्का अमान्य नहीं है और सभी सिक्के चलन में हैं.

देश के कई हिस्सों में दस रुपये के नकली सिक्कों की अफवाहों की वजह से जनता को दिक्कत का सामना करना पड़ता है.

बैंक का कहना है कि शेरावाली की फोटो वाला सिक्का, संसद की तस्वीर वाला सिक्का, बीच में संख्या में ‘10’ लिखा हुआ सिक्का, होमी भाभा की तस्वीर वाला सिक्का, महात्मा गांधी की तस्वीर वाला सिक्का सहित अन्य सभी सिक्के मान्य हैं.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट ?

कॉरपोरेट मामलों के वकील शुजा ज़मीर का इस मामले पर कहना है कि भारत की वैध करेंसी को लेने से इनकार करने पर राजद्रोह का मामला बनता है. भारतीय दंड संहिता की धारा 124 (1) के तहत ये अपराध है क्योंकि मुद्रा पर भारत सरकार वचन देती है.

लीगल टेंडर नहीं लिया है वापस 

आरबीआई ने कहा कि केंद्रीय बैंक ने वक्त पर आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक थीम पर सिक्के जारी किए हैं और सिक्कों में 2011 में रुपये का चिह्न करने के बाद बदलाव आया. आपको बता दें कि आरबीआई ने किसी  भी 10 के सिक्के का लीगल टेंडर वापस नहीं लिया है और सारे सिक्के वैध हैं.
First published: April 10, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर