आम लोगों के लिए 40,000 सस्ते मकान बनाएगी सुपरटेक

भाषा
Updated: March 19, 2017, 9:19 PM IST
आम लोगों के लिए 40,000 सस्ते मकान बनाएगी सुपरटेक
आम लोगों की ज़रुरतों को देखते हुए सुपरटेक कंपनी ने 40,000 सस्ते मकान बनाने का निर्णय लिया है. इसके लिए कंपनी अभी से तैयारी कर रही है. गौरतलब है कि कंपनी को इसके लिए 4,000 करोड़ की ज़रुरत पड़ेगी. देखा जाए तो यह सुपरटेक की भावी परियोजना है. इसके लिए कंपनी अभी से तैयारी कर रही है.
भाषा
Updated: March 19, 2017, 9:19 PM IST
आम लोगों की ज़रुरतों को देखते हुए  सुपरटेक कंपनी ने 40,000 सस्ते मकान बनाने का निर्णय लिया है. इसके लिए कंपनी अभी से तैयारी कर रही है. गौरतलब है कि कंपनी को इसके लिए  4,000 करोड़ की ज़रुरत पड़ेगी. देखा जाए तो यह सुपरटेक की भावी परियोजना है. इसके लिए कंपनी अभी से तैयारी कर रही है.

बजट को ध्यान में रख कर इस परियोजना पर अमल किया जा रहा है. गौरतलब है कि इस बार के बजट में सस्ते मकानों का ज़िक्र किया गया था. अपनी इस परियोजना पर सुपरटेक के चेयरमैन आर. के. अरोड़ा कहते हैं,  ईसीबी अगले चार साल के दौरान 40,000 सस्ते मकान बनाने की योजना के वित्तपोषण के लिए जुटाया जा रहा है.

अरोड़ा ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘इस साल बजट में सस्ते मकानों को काफी प्रोत्साहन मिला है. हम ग्रेटर नोएडा, यमुना एक्सप्रेसवे, गुड़गांव, मेरठ और देहरादून में अपनी मौजूदा योजना के बिल्डिंग प्लान को कम लागत वाले मकानों में बदल रहे हैं.’’

निवेश के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास जमीन पहले से है. हमें 40,000 फ्लैट बनाने के लिए 3,500 करोड़ से 4,000 करोड़ रुपये की जरूरत होगी.’’ उन्होंने कहा कि कंपनी ने ईसीबी मार्ग से कोष जुटाने को सलाहकार की नियुक्ति की है. सुपरटेक ने बाह्य वाणिज्यिक ऋण ईसीबी के जरिये 1,000 करोड़ रपये जुटाने को सलाहकार की सेवाएं ली हैं.
First published: March 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर