इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल बनकर महीने में कमा सकते हैं लाखों, बैंकों की सख्ती से खुली नई राह

News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 12:37 PM IST
इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल बनकर महीने में कमा सकते हैं लाखों, बैंकों की सख्ती से खुली नई राह
चार्टर्ड अकाउंटेंट्स, कॉस्ट अकाउंटेंट्स और कंपनी सेक्रेटरीज खुद को इस पेशे के लिए तैयार करने में जुटे हैं.
News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 12:37 PM IST
भारतीय बैंकों के बैड लोन (जोखिम भरे या डूबे हुए लोन) वसूलने को लेकर सख्त रुख अपनाए जाने के बीच इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल्स के करियर को तेजी से बढ़ावा मिला है. चार्टर्ड अकाउंटेंट्स, कॉस्ट अकाउंटेंट्स और कंपनी सेक्रेटरीज खुद को इस पेशे के लिए तैयार करने में जुटे हैं.

700 से ज्यादा CA ने कराया एनरॉलमेंट
एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर बैंकरप्शी प्रोसेस आगे बढ़ती है तो इस प्रक्रिया पर निगरानी रखने और एसेट सेल प्रोग्राम के तहत संकटग्रस्त संपत्तियों के लिए हजारों इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल्स की जरूरत होगी. हालिया अधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) ने इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल्स के रूप में अकेले 700 से ज्यादा प्रैक्टिस कर रहे चार्टर्ड अकाउंटेंट को एनरॉल किया है. सूत्रों का कहना है कि इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल्स की तरफ बढ़ते रुझान की वजह इस पेशे से होने वाली कमाई है. इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल्स बड़ी आसानी से महीने में 1-1.5 लाख रुपये कमा सकते हैं.

एनरॉलमेंट के लिए बढ़ रहीं इंक्वायरीज

इंडस्ट्री से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया में एनरॉलमेंट के लिए हजारों इंक्वायरी आई हैं. कंपनी सेक्रेटरीज और कॉस्ट अकाउंटेंसी इंस्टीट्यूट्स में भी ऐसा ही रुझान देखने को मिल रहा है, जहां अधिकारिक रूप से करीब 400-500 लोग एनरॉल हुए हैं. सरकार की तरफ से इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्शी कोड (IBC) लाए जाने के बाद इस प्रक्रिया को रफ्तार मिली है और इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल्स की तरफ लोगों का रुझान बढ़ा है.

बैंक रख रहे इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल्स
इंस्टीट्यूट ऑफ कॉस्ट अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICWAI) के एक सीनियर मेंबर ने बताया कि हमारे यहां हर दिन इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल्स के लिए सैकड़ों इंक्वायरी आ रही हैं, क्योंकि कैंडीडेंट्स इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्शी बोर्ड ऑफ इंडिया (IBBI) की तरफ से आयोजित किए जाने वाले एग्जाम की तैयारी करते हैं. प्रोफेशनल्स जैसे ही IBBI की तरफ से आयोजित एग्जाम को क्लीयर कर लेते हैं, उन्हें एक सर्टिफिकेट मिल जाता है. प्रोफेशनल्स को यह सर्टिफिकेट संबंधित एजेंसियों में देनी होती है, जो कि उन्हें इनरॉल करते हैं. मौजूदा समय में कई बैंक ICWA, ICAI, ICSI से इनसॉल्वेंसी प्रोफेशनल्स को अपने यहां रख रहे हैं.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर