सेहत ही नहीं, करियर भी बना रहा है योग...

News18India.com

Updated: November 9, 2016, 6:57 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

नई दिल्ली। आजकल तनाव भरे माहौल में योग का महत्व अब पहले के मुकाबले कहीं ज्यादा बढ़ गया है। योग से न सिर्फ आपका मानसिक संतुलन ठीक रहता है बल्कि कसरत, मेडिटेशन से आपकी बॉडी भी फिट रहती है और शारीरिक स्वास्थ्य भी ठीक रहती  है। आज के दौर में ऐसे स्टूडेंट्स की कमी नहीं हैं, जो लीड से हटकर अपना करियर बनाना चाहते हैं। और लोगों के फिट रहने की आदत ने योग में करियर की कई ऑपशन्स खोल दिए है।

योग के सर्टिफिकेट से लेकर पीएचडी तक कोर्सेस है। जिनकी अवधि 6 महीनें, एक साल और दो साल भी है। इनहें करने के बाद आप योग को बतौर करियर बना सकते है। दिल्ली के श्यामा प्रसाद मुखर्जी कॉलेज (डीयू), भारतीय विद्या भवन, मोराजी देसाई इंस्टीट्यूट, ऋषिकेश के शिवानंद आश्रम, और नासिक के योगा पॉइंट जैसे कई मशहूर कॉलेज या शिक्षण संस्थान हैं जहां से योग का कोर्स किया जा सकता है।

सेहत ही नहीं, करियर भी बना रहा है योग...
आज के दौर में ऐसे स्टूडेंट्स की कमी नहीं हैं, जो लीड से हटकर अपना करियर बनाना चाहते हैं

पश्चिम विहार में योग ट्रेनर के रूप में कार्यरत संगीता बेदी ने बताया कि उन्होंने 8 साल बतौर फिचनेस टीचर स्कूल में काम किया है और अब रिटायर होने के बाद अपने कालोनी में बच्चो के लिए कोचिंग चलाती हैं। वह कहती हैं कि स्कूल-कॉलेजों में योग इंस्ट्रक्टर बनने के अलावा, लेक्चरर, रीडर व प्रोफेसर बनने का ऑप्शंस भी होते है। हॉस्पिटल्स, एंप्लायीज ट्रेनिंग सेंटर्स आदि के अलावा योग इंस्ट्रक्टर के तौर पर विभिन्न निजी कंपनियां, होटलों, अस्पतालों में भी अपनी सेवा दे सकते हैं या उनकी तरह खुद का कोचिंग सेंटर भी खोल सकते हैं। आमतौर पर योग इंस्ट्रक्टर की सैलरी निर्भर करती है कि आप कहा काम कर रहे है। मगर शुरुआती दौर में कोई भी इंस्ट्रक्टर करीब 15-20 हजार रुपये कमा सकता है।

भारत के अलावा इंटरनेशनली भी योग का  स्कोप दिन प्रतिदिन बड़ता नजर आ रहा है। जहां आप अच्छी पे स्केल पर बतौर इंस्ट्रक्टर काम कर सकते है। अच्छी बात तो ये है कि अगर फुल टाइम नहीं तो योग में आप बतौर पार्ट टाइम भी कमाई कर सकते है।

First published: November 9, 2016
facebook Twitter google skype whatsapp