शॉर्ट फिल्म बनाकर ऐसे करें कमाई...

News18India.com
Updated: October 13, 2016, 9:05 AM IST
शॉर्ट फिल्म बनाकर ऐसे करें कमाई...
पहले जहां सिर्फ़ सिनेमा और मीडिया के छात्र प्रयोग के तौर पर शॉर्ट फिल्में बनाते थे वहीं अब बड़े-बड़े फ़िल्ममेकर भी इस विधा में हाथ आज़मा रहे हैं
News18India.com
Updated: October 13, 2016, 9:05 AM IST
नई दिल्ली।  अगर आपको फोटोग्राफी या वीडियोग्राफी का शौक है और बेहतर तरीके से कैमरा संभाल लेते हैं, साथ में क्रिएटिव सोच के भी हैं तो इस फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं। वीडियोग्राफी आपके लिए एक बेहतरीन स्वरोजगार साबित हो सकती है। पहले जहां सिर्फ सिनेमा और मीडिया के छात्र प्रयोग के तौर पर शॉर्ट फिल्में बनाते थे वहीं अब बड़े-बड़े फ़िल्ममेकर भी इस विधा में हाथ आजमा रहे हैं।

शॉर्ट फिल्मों को देखने वाले लोग बहुत हैं, उनसे आने वाला पैसा थोड़ा कम जरूर है मगर ऐसे में, अगर आप फिल्म को किसी कंपनी से फंड लेकर बना ले या फिर डेली मोशन, वीडियो ऑन डिमांड जैसी वेबसाइट्स पर अपनी फ़िल्म अपलोड करें जिससे आपको पैसा मिल सकता है। शॉर्ट फिल्मों से यूट्यूब के जरिये भी आसानी से पैसा कमाया जा रहा है। आप यूट्यूब पर अपनी फ़िल्म अपलोड करते ही पैसा कमा सकते हैं और इसके लिए आपको बस अपना एक यूट्यूब चैनल बना कर यूट्यूब पर पहले से मौजूद ‘मोनेटाइज़’ का ऑप्शन सेलेक्ट करना होगा और आपकी फिल्म में विज्ञापन आना शुरू हो जाएँगे।

यूट्यूब चैनल 'पुरानी दिल्ली टॉकीज' के फाउंडर रोहित गाबा कहते हैं कि अगर लोग इस फील्ड में करियर बनाना चाहते है तो उससे पहले  खुद का आंकलन जरूर कर लें क्योंकि क्रेजी होना ही काफी नहीं होता है। अगर आपने काबिलियत के साथ धैर्य नहीं है तो आप लंबी रेस का घोडा नहीं बन पाएंगे। उन्होंने कहा कि जहाँ तक सवाल कमाई का है , उस स्तर तक पहुंचने के लिए आपको अच्छी स्क्रिप्ट ही नहीं, अच्छा कैमरा पर्सन, अच्छा एडिटर, अच्छा निर्देशक भी होना होगा। आपको यह सब हायर करने से भी मिल जायेगा लेकिन एक फिल्मकार को खुद भी यह योग्यताएं रखनी चाहिए। रोहित को अनुराग कश्यप ने देश के टॉप 10 उदयीमान न्यू फिल्म मेकर की लिस्ट में चुना है।

इस विषय पर बात करने पर बीकॉम (डीयू) की एक छात्र, प्रियंका ने बताया कि, मैने अपनी पहली शॉर्ट फिल्म कॉलेज के पहले साल मोबाइल से शूट की थी, और फिर धीरे धीरे इंट्रेस्ट बढ़ा और खुद का कैमरा लिया और हाल ही में अपने दोस्तो की मदद से ट्रांसजेन्डर पर एक शॉर्ट फिल्म बनाई है और यूट्यूब पर अपलोड की जिसके लिए मुझे सराहना मिली।  इन शॉर्ट फिल्मों का भविष्य में सफर बहुत लंबा चलने वाला है। क्योंकि बाजार में शॉर्ट फिल्में बनाने वाले निर्देशकों के लिए बहुत ऑपशन्स है।और कई बार अच्छी स्क्रिप्ट देख कर चैनल या सिनेमाघर भी शॉर्ट फ़िल्मों को ख़रीद लेते हैं।

अगर आप फ़िल्म निर्माण में थोड़ी बहुत भी दिलचस्पी रखते हैं तो कमाई के इस ज़रिये को भी आज़मा कर देखें
First published: October 13, 2016
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर