इलाहाबाद में 4 छात्राओं ने बदमाशों को दिन में दिखाए तारे

News18India
Updated: August 28, 2012, 5:03 AM IST
News18India
Updated: August 28, 2012, 5:03 AM IST
इलाहाबाद। इलाहाबाद में बहादुर लड़कियों ने एक ऐसा उदाहरण पेश किया जिसपर सबको गर्व है। लड़कियां छेड़खानी करने का इरादा रखने वाले ऑटो चालक और उसके दोस्तो के सामने डटकर खड़ी रही और उन्हें सबक भी सिखाया।
ये घटना सोमवार की है। 12वीं में पढ़ने वाली लड़कियां रोजाना एक ही ऑटो से स्कूल आती और जाती थीं। ऑटो वाला रोजाना लड़कियों को घर से स्कूल और स्कूल से घर छोड़ता था। पीड़ित लड़कियों के मुताबिक सोमवार को भी स्कूल की छुट्टी होने के बाद ऑटो में सभी छात्राएं घर जा रही थीं। कुछ छात्राएं अपनी मंजिल पर उतर गईं। जब ऑटो में सिर्फ चार लड़कियां रह गईं तो अचानक ऑटो वाले ने रास्ता बदल दिया। उसने रास्ते में अपने तीन और साथियों को भी ऑटो में बैठा लिया। लड़कियों को शक हुआ और उन्होंने कहा कि उनका घर तो पीछे छूट गया तो उसने ऑटो की रफ्तार बढ़ा दी। लड़कियों को ये समझते देर नहीं लगी कि ऑटोवाले की नीयत में खोट आ चुका है। उन्होंने बैगर देरी किए ऑटो से बाहर छलांग लगा दी। इसमें एक लड़की जख्मी भी हो गई।

ऑटो से कूदने के बाद लड़कियों ने शोर मचाया तो आसपास के लोग तुरंत जुट गए और उन्होंने ऑटोवाले और उसके साथियों को धर-दबोचा। इसके बाद लोगों ने आरोपी ऑटोवाले और उसके साथियों की जमकर धुनाई की और पुलिस को सौंप दिया। पुलिस उसी ऑटो में आरोपी ड्राइवर से टैक्सी चलवाकर छात्रा को अस्पताल ले गई। अस्पताल परिसर में पुलिस की मौजूदगी आरोपी युवक की एक बार फिर पिटाई हुई। घरवालों का कहना है कि लड़कियां रोजाना इसी ऑटो से स्कूल से घर आती थीं। उन्हें कभी-भी ऑटो वाले पर कभी शक नहीं हुआ।

लड़कियों की हिम्मत से एक बड़ी वारदात टल गई और अपहरण करने वाले आरोपी युवक पुलिस की गिरफ्त में हैं। लेकिन इस घटना से परिवारवाले सकते में हैं। अगर लड़कियों ने हिम्मत और सूझबूझ न दिखाई होती तो वो बड़ी मुसीबत में फंस सकती थीं।
First published: August 28, 2012
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर