ट्रिपल मर्डर केस में घायल वृद्धा की मौत, महीने भर के भीतर निकलेगी घर से तीसरी शवयात्रा

Anni Amrita | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: June 19, 2017, 10:33 AM IST
ट्रिपल मर्डर केस में घायल वृद्धा की मौत, महीने भर के भीतर निकलेगी घर से तीसरी शवयात्रा
फोटो ईटीवी
Anni Amrita | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: June 19, 2017, 10:33 AM IST
बच्चा चोर अफवाह में जमशेदपुर के नागाडीह में हुए तिहरे हत्याकांड में घायल कर दी गई वृद्धा रामसखी देवी की टीएमएच में इलाज के दौरान रविवार रात दो बजे मौत हो गई. रामसखी देवी घटना में मारे गए दो सगे भाइयों विकास वर्मा और गौतम वर्मा की दादी थीं.

घटना का वीडिया बाद में वायरल हुआ था. इस वीडियो में वे भीड़ से गुहार लगाती दिख रही हैं. भीड़ ने तीनों युवकों गौतम वर्मा, विकास वर्मा और गंगेश गुप्ता की पीट पीट कर हत्या कर डाली थी और फिर बूढ़ी दादी को भी नहीं बख्सा था. वे भीड़ की मार से बुरी तरह से घायल हो गईं थीं. लगभग एक महीने तक वे टीएमएच में जिंदगी और मौत के बीच झूलती रही थीं और घटना के एक महीना बीतते बीतते वे जिंदगी की जंग हार गईं. सोमवार को उनके घर में तीसरे शव की शवयात्रा निकलेगी. घर के दो बेटे पहले ही अपनी जान गंवा चुके हैं.

उधर बागबेड़ा के नागाडीह गांव में हुई इस घटना में अब तक पुलिस ने एक नामजद समेत कुल 16 लोगों को गिरफ्तार किया है. लेकिन 16 नामजद आरोपी अब भी फरार हैं. घटना में बागबेड़ा पुलिस ने कुल 17 नामजद और 300 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी. तिहरे हत्यकांड के मुख्य फरार आरोपी नागाडीह गांव के मुखिया राजाराम हांसदा है. वहीं ग्राम प्रधान जगता मार्डी समेत अन्य नामजद आरोपी फरार हैं.
First published: June 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर