रिया गौतमः कातिल ने एकतरफा इश्क के जूनून में गर्लफ्रेंड को मार डाला!

Anand Tiwari | News18Hindi
Updated: July 14, 2017, 11:35 AM IST
Anand Tiwari | News18Hindi
Updated: July 14, 2017, 11:35 AM IST
क्या आप भी प्यार, इश्क और क्या कहते हैं  'मोहब्बत 'में यकीं रखते हैं, तो सावधान रहिए, क्योंकि ये इश्क आसां नहीं होता, बस इतना समझ लीजिए. कहते हैं इश्क एक ऐसा समुंदर है जिसमें जिंदगी दो ही करवट बैठती है, आर या पार?  क्योंकि इश्क इबादत में ही सूकूं देती है, लेकिन इश्क जब दीवानगी या पागलपन बन जाती है तो इसकी इबारत रुह तक कंपा देती है। दिल्ली में एअर होस्टेज की ट्रेनिंग ले रही रिया गौतम के साथ कुछ ऐसा ही हुआ.एक दोस्त ने इसलिए उसकी हत्या कर दी, क्योंकि वह रिया से एकतरफा प्यार करता था.

एकतरफा प्यार की शिकार हुई रिया
21 वर्षीय रिया गौतम एयर होस्टेज बनना चाहती थी. उसकी चाहतों की उड़ान जमीन से इतर आसमां था, लेकिन एअर होस्टज स्टूडेंट का आसमानी सफ़र शुरू होने से पहले ही थम चुका है. दिल्ली की रिया गौतम की सांसें एक दिन थम गई, क्योंकि रिया की जिंदगी में आदिल के एकतरफा इश्क की एंट्री हो गई थी. रिया के हवाई सफर पर अचानक से ब्रेक लग गया. वह अब इस दुनिया में नहीं रही, क्योंकि इश्क में पागल उसके प्रेमी ने चाकुओं से गोदकर उसकी जान ले ली थी.

रिया की दोस्ती और आदिल का प्यार

रिया गौतम बेहद ही संजीदा और प्रोफेशनल लड़की थी. एअर होस्टेज की ट्रेनिंग के दौरान उसकी आदिल नामक एक लड़के से दोस्ती होती है और दोस्ती प्यार में बदल गई. वक्त बीता और रिया और आदिल की प्रेम कहानी ने दो वर्ष पूरे कर लिए थे. इस लव स्टोरी पर भी ग्रहण लगा और रिया और आदिल के बीच एक और की एंट्री होती है.

रिया के इश्क में गिरफ्तार आदिल नहीं चाहता था कि दोनों के बीच कभी दूरियां आएं, लेकिन दोनों के बीच में एक और शख्स की एंट्री से आदिल इंसान से जानवर बन गया और एक के बाद चाकूओं के वार रिया का कत्ल कर देता है, जिससे वह बेइंतहा प्यार करता था और कभी गिफ्ट में मोबाइल फोन दिया था।

रिया की बेरुखी से आहत था आदिल
कहते हैं कि रिया गौतम दो वर्ष पुरानी दोस्ती से पीछा छुड़ाना चाहती थी और जब एकाएक आदिल से दूरी बनाने लगी और आदिल के फोन पिक करना बंद कर दिए तो आदिल परेशान रहने लगा था. रिया को अब आदिल में दिलचस्पी नहीं थी, उसको एक नया दोस्त मिल गया था. दोस्ती से एकतरफा प्रेमी में तब्दील हो चुका आदिल को पहले यह नागवार लगा. रिया की दूसरे शख्स के साथ दोस्ती ने उसे बुरी तरह से तोड़ दिया था. आदिल के लिए यह बर्दाश्त करना मुश्किल हो गया था कि रिया की जिंदगी में कोई और आ गया है.

आदिल ने रिया से कई मर्तबा परवान चढ़ती अपनी मोहब्बत के बारे रिया को बताया भी था. शायद यही कारण था कि रिया आदिल से दूरी बनाने लगी थी. रिया आदिल के साथ प्यार या किसी ऐसे रिश्ते बारे में सोचना भी नहीं चाहती थी. लेकिन एकतरफा प्यार के जूनून में अंधे हो चुके आदिल को लगा कि रिया ने उसका इस्तेमाल करके उसे डंप कर दिया है. अब आदिल रिया से बदला लेना चाहता था, लेकिन उसका बदला इतना ख़ौफ़नाक होगा यह शायद रिया ने कभी अनुमान नहीं किया था.

दोस्ती की आड़ में चली गई रिया की जान
एकतरफा प्यार के जूनून में पागल हुआ आदिल ने रिया से बदला लेने के लिए इमोशनल और प्रोफेशनल तरीका अख्तियार करने शुरू कर दिए. आदिल ने खुद अभियुक्त दर्शाते हुए पहले दोस्तों के सामने अपना दुखड़ा रोया और दोस्तों की सलाह पर उसने रिया को सबक सिखाने की योजना बना ली. आदिल के दोस्तों ने आदिल के एकतरफा प्यार को जूनून के हद तक पहुंचाने में बखूबी योगदान किया वरना अकेले आदिल शायद ही रिया की चाकुओं से गोदकर हत्या की योजना को अंजाम दे पाता.

दिल्ली के एम एस पार्क में रहती थी रिया
पिछले वर्ष मार्च में रिया दिल्ली के एम एस पार्क में रहती थी, लेकिन एकतरफा प्यार में घायल आदिल की हरकतों से रिया तंग हो चुकी थी. उसे आदिल से खतरा महसूस होने लगा था. यही कारण था कि रिया और उसके परिवार ने एस एस पार्क पुलिस स्टेशन में आदिल के खिलाफ एक शिकायत भी दर्ज कराई थी, जिसमें बकायदा लिखा कि वो आदिल से अब दूर होना चाहती है, क्योंकि आदिल उसको जान से मारने की धमकी देता है. रिया और आदिल के रिश्तों में इतनी कड़वाहट आ चुकी थी आदिल ने रिया को गिफ्ट में दिया हुआ मोबाइल फोन तक वापस ले लिया था.

पुलिस की लापरवाही में गई रिया की जान
रिपोर्ट कहती है कि अगर दिल्ली पुलिस ने रिया गौतम की शिकायत के बाद आदिल पर कार्रवाई करती तो शायद रिया गौतम को जिंदगी से हाथ नहीं धोना पड़ता. लेकिन पुलिस ने रिया की लिखित शिकायत को नजरंदाज कर दिया और उसे आम शिकायत की तरह लेते हुए मामले को टालमटोल दिया. इसका अंजाम हुआ कि रिया गौतम सरेआम आदिल के पागलपन की शिकार हुई. आदिल ने दिनदहाड़े रिया के पेट में 7 बार चाकुओं से हमला किया. सीसीटीवी में दर्ज आदिल की हरकत इसकी गवाह है. पेट में कई बार हुआ हमला और शरीर से काफी खून बह जाने से रिया की जान चली गई.

कत्ल की साजिश रच चुका था आदिल
दिल्ली पुलिस ने भले ही रिया की लिखित शिकायत को कचड़े के डिब्बे में डाल दिया था, लेकिन आदिल की आंखों में खून सवार था. वह रिया की हत्या की एक ख़ौफ़नाक साजिश रच चुका था। वारदात को अंजाम देने के लिए आदिल एक दिन अचानक रिया के घर जाता है. रोज की तरह ही रिया शाम को वॉक पर निकली थी. रिया के घर से महज 50 मीटर की दूरी पर मौजूद आदिल रिया को उकसाने के लिए पहले उसके साथ गाली-गलौज करता है और फिर साथ लाए धारदार चाकू रिया के पेट में घोंप देता था. आदिल तब तक वार करता है जब तक रिया निढ़ाल होकर गिर नही गई.

सरेआम और सरेराह हुई रिया की हत्या
आदिल ने रिया के कत्ल के अंजाम देने के लिए कोई सूनसान रास्ता भी चुन सकता था, लेकिन उसने रिया का कत्ल सरेआम और सरेआम अंजाम दिया. आदिल की ताबड़तोड़ चाकूओं के वार से घायल हुई रिया पास के ही एक दुकान के अंदर छुपकर खुद को आदिल से बचाने की कोशिश करती है और आसपास के लोगों से मदद की गुहार भी लगाती है, लेकिन कोई उसकी मदद को आगे नहीं आता है. आदिल दुकान के अंदर घुसकर भी रिया पर हमला करता है और बिना किसी अवरोध के, मौके से फरार हो जाता है.

गुहार लगाते-लगाते अंततः मर गई रिया
सिरफिरे आशिक आदिल के चाकुओं के ताबड़तोड़ वार से बुरी तरह घायल रिया के पेट से लगातार खून रिस रहा था, लेकिन फिर भी वह सड़के पर चल रहे लोगों और आसपास के दुकानदारों से मदद के लिए पुकारती है, लेकिन उसकी मदद के लिए आगे नहीं आता और खून ज्यादा बह जाने से वह वहीं अचेत हो जाती है. रिपोर्ट के मुताबिक अचेतावस्था में रिया को कुछ देर एक नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के बाद अगले दिन रिया दम तोड़ दिया.

रिया तड़पती रही तमाशबीन बने रहे लोग
रिया की मौत के बाद रिया का परिवार दिल्ली पुलिस के साथ साथ वारदात वाली जगह पर तमाशबीन जनता पर लापरवाही का आरोप लगाया। परिवार के मुताबिक अगर लिखित शिकायत के बाद पुलिस आदिल पर कार्रवाई करती तो रिया जिंदा होती और अगर घटनास्थल में मौजूद लोग उनकी बेटी की मदद करते तो रिया उनके बीच मौजूद होती.

सीसीटीवी में कैद हुईं कातिल की तस्वीरें
रिया गौतम की सरेराह हत्या के बाद कातिल आशिक आदिल फरार हो गया. हैड सीपी नूपुर प्रसाद के नेतृत्व में शहादरा पुलिस की जांच शुरूआत की गई. कातिल आदिल की तलाश के लिए 10 लोगों की टीम बनाई गई. एसीपी सीमापुरी, एसपी शहादरा, एसपी ऑपरेशन की टीम मुंबई क्राइम ब्रांच के साथ मिलकर एक जॉइंट ऑपरेशन में मोबाइल सर्विलांस के जरिए आदिल को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने वारदात में शामिल आदिल के दो दोस्तों जुनैद और एक नाबालिग साथी को भी पकड़ा है.

गिरफ्तार हुआ अलीगढ़ निवासी आदिल
अलीगढ़, उत्तर प्रदेश का निवासी हत्यारा आदिल पिछले कई वर्षों से दिल्ली के राम नगर में किराए पर रह रहा था. पुलिस के मुताबिक रिया की कत्ल के बाद आदिल वापस अलीगढ़ चला गया था. पेशे से एक स्कूल वैन ड्राइवर आदिल गिरफ्तारी के बाद से फिलहाल जेल में हैं. पुलिस ने आदिल के खिलाफ आईपीसी की धारा 302,120B 34, के तहत मुकदमा दर्ज किया है. आदिल पर पहले भी वाहन चोरी का एक मामला दर्ज है जिसके चलते वो पहले भी गिरफ्तार भी हो चुका है।
First published: July 12, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर