दिल्ली एमसीडी चुनाव में 30 फीसदी करोड़पति उम्मीदवार

भाषा
Updated: April 18, 2017, 10:31 PM IST
दिल्ली एमसीडी चुनाव में 30 फीसदी करोड़पति उम्मीदवार
23 अप्रैल को दिल्ली में नगर निगम चुनाव होने वाले हैं. इन चुनावों में 2315 उम्मीदवार मैदान में हैं जिनमें से 697 उम्मीदवार करोड़पति हैं.
भाषा
Updated: April 18, 2017, 10:31 PM IST
23 अप्रैल को दिल्ली में नगर निगम चुनाव होने वाले हैं. इन चुनावों में 2315 उम्मीदवार मैदान में हैं जिनमें से 697 उम्मीदवार करोड़पति हैं.

उम्मीदवारों के नामांकन हलफनामों के आधार पर एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म, एडीआर की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया गया है.

साथ ही इस बात का भी खुलासा किया गया है कि कुल 30 फीसदी करोड़पति उम्मीदवारों में से 7 फीसदी उम्मीदवार आपराधिक छवि वाले हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस के पास सबसे अधिक 64 फीसदी करोड़पति उम्मीदवार हैं. कांग्रेस के कुल 256 उम्मीदवारों में से 163 उम्मीदवार करोड़पति हैं.

वहीं बीजेपी के 260 उम्मीदवारों में 141 उम्मीदवार यानी 54 फीसदी और आम आदमी पार्टी के 250 में से 104 यानी 42 फीसदी उम्मीदवार करोड़पति हैं.

करोड़पति उम्मीदवार मैदान में उतारने के मामले में क्षेत्रीय दल भी पीछे नहीं हैं.

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने 38 में 9 यानी 24 फीसदी, बीएसपी के 191 में से 41 यानी 22 फीसदी और भाकपा के 12 में से 1 यानी 8 फीसदी करोड़पति उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है.

इन सभी उम्मीदवारों ने चुनाव आयोग में नामांकन के साथ पेश हलफनामे में अपनी संपत्ति की कीमत एक करोड़ रुपये से ज्यादा बतायी है.

रिपोर्ट के मुताबिक निगम चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों की संपत्ति की औसत कीमत 1.61 करोड़ रुपये प्रति उम्मीदवार आंकी गयी है.

कांग्रेस के प्रत्येक उम्मीदवार की संपत्ति का औसत मूल्य 4.36 करोड़ रुपये, बीजेपी के उम्मीदवारों की संपत्ति का मूल्य 2.89 करोड़ रुपये, आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार 1.65 करोड़ रुपये, राकांपा के उम्मीदवार 92.38 लाख रुपये और बीएसपी के उम्मीदवार 89.59 लाख रुपये कीमत की संपत्ति के मालिक हैं.

आर्थिक हालत के लिहाज से वामपंथी दलों के उम्मीदवार कमज़ोर पाये गये हैं. माकपा के 16 उम्मीदवारों की संपत्ति का औसत मूल्य 19.20 लाख रपये और भाकपा के 12 उम्मीदवार औसतन 23.04 लाख रुपये की संपत्ति के मालिक हैं.

जबकि इसके उलट 1051 निर्दलीय उम्मीदवारों की संपत्ति का औसत मूल्य 97.79 लाख रुपये प्रति उम्मीदवार है.

संपत्ति के अलावा आपराधिक रिकॉर्ड के मामले में 2315 उम्मीदवारों में से 173 यानी 7 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले लंबित हैं.

जबकि 116 उम्मीदवारों यानी 5 फीसदी के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज़ हैं. आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवारों की फेहरिस्त में भी कांग्रेस अव्वल है.

पार्टी के 35 उम्मीदवार यानी 14 फीसदी के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज़ हैं जबकि बीजेपी के 26 उम्मीदवार यानी 10 फीसदी, आप के 21 यानी 8 फीसदी और बीएसपी के 13 उम्मीदवार यानी 7 फीसदी के खिलाफ आपराधिक मामले विभिन्न अदालतों में चल रहे हैं.

तीन नगर निगमों के 272 वार्ड के लिये 23 अप्रैल को मतदान होना है.
First published: April 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर