MCD election 2017: एग्जिट पोल ने बीजेपी के पक्ष में सुनाया है फैसला

News18Hindi
Updated: April 26, 2017, 7:30 AM IST
News18Hindi
Updated: April 26, 2017, 7:30 AM IST
दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिये आज हुये मतदान में एक्जिट पोल के नतीजे पूरी तरह से भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में जाते दिख रहे हैं. शाम साढ़े पांच बजे तक हुये मतदान के तुरंत बाद जारी सभी प्रमुख एक्जिट पोल में भाजपा को 200 से अधिक वार्ड में जीत मिलने का दावा किया गया है, जबकि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच दूसरे और तीसरे नंबर के लिये कांटे की टक्कर बतायी गयी है.

तीनों नगर निगमों के 272 में 270 वार्ड के लिये सुबह आठ बजे से शाम साढ़े पांच तक हुये मतदान के तुरंत बाद सबसे पहले सी-वोटर एबीपी न्यूज द्वारा जारी एग्जिट पोल में भाजपा को 218 वार्ड में जीत मिलने का अनुमान व्यक्त किया गया है. वहीं आप को 24 और कांग्रेस को 22 वार्ड जीतने का दावा किया गया है.

इंडिया टुडे द्वारा जारी दूसरे एक्जिट पोल में भी भाजपा का पलड़ा भारी दिखाया गया. इसमें भाजपा को तीनों निगमों में पूर्ण बहुमत के साथ 202 से 220 के बीच सीटें मिलने और आप को 23 से 35 तथा कांग्रेस को 19 से 31 तक सीमित रखा गया है. एक्जिट पोल में भाजपा को 43 प्रतिशत वोट मिलने और आप को 24 प्रतिशत वोट मिलने की बात कही गयी है.

एक्जिट पोल के अलावा मतदान खत्म होने के बाद डीयू से संबद्ध विकासशील राज्य शोध केन्द्र द्वारा जारी चुनाव पूर्व सर्वेक्षण में भी भाजपा को 214 सीटें मिलने का अनुमान व्यक्त किया गया है. आप को 29 और कांग्रेस को 24 सीटें मिलने की बात कही गयी है. संगठन का 39147 मतदाताओं से मिले नमूनों के आधार पर सभी 272 वार्ड में सर्वेक्षण करने का दावा किया गया है.

सोशल मीडिया : वोटिंग के दिन ऐसे उड़ रहा है ईवीएम का मजाक

तीन नगर निगमों के 272 वार्ड में से 270 वार्ड के लिये आज सुबह 8 बजे मतदान शुरू हुआ. मौजपुर और सराय पीपल थाला वार्ड में उम्मीदवारों की मौत के कारण मतदान स्थगित कर दिया गया. इसमें दिल्ली के लगभग 1.32 करोड़ मतदाता उत्तरी निगम के 103, दक्षिणी निगम के 104 और पूर्वी निगम के 63 वार्ड के लिये हो रहे चुनाव में लगभग 13 हजार उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. इनमें भाजपा के 266, आप के 262, कांग्रेस के 267 और स्वराज इंडिया के 109 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं.

PHOTOS: वोट डालने के लिए इस तरह घरों से निकले लोग

 
First published: April 23, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर