दिल्ली विधानसभा में हंगामे के बाद बीजेपी नेता को निकाला बाहर, धरने पर बैठे

News18Hindi
Updated: May 9, 2017, 7:32 PM IST
News18Hindi
Updated: May 9, 2017, 7:32 PM IST
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मंगलवार को खुला ख़त पढ़ने वाले कपिल मिश्रा सीबीआई पहुंच गए हैं. न्यूज 18 इंडिया सूत्रों के मुताबिक कपिल ने केजरीवाल के खिलाफ लिखित शिकायत की. उधर, मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीजेपी स्टेट प्रेसिडेंट मनोज तिवारी ने केजरीवाल पर तीखा हमला किया. बीजेपी कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल के घर के बाहर प्रदर्शन किया.

विधानसभा सेशन से पहले केजरीवाल के आवास में एक अहम बैठक हुई. विधानसभा के स्पेशल सेशन में सदन की कार्यवाही जारी है. केजरीवाल ने आज अहम खुलासा करने की बात कही है. उनके ईवीएम में छेड़खानी को लेकर एक डेमो शो किया. यहां क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर

कार्यवाही शुरू होने के बाद विधानसभा में विपक्ष की ओर से भारी हंगामा हुआ. मार्शल बुलाने पड़े. विधानसभा अध्यक्ष ने सदन में बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता को एक दिन के लिए बाहर कर दिया. वे बाहर धरने पर बैठे हैं. अलका लाम्बा ने सदन में ईवीएम का मुद्दा उठाया. यहां क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर

मौजूदा विवाद के बाद विधानसभा के स्पेशल सेशन में बैठने की व्यवस्था में भी बदलाव किया गया है. जानकारी के मुताबिक कपिल मिश्रा अब विपक्ष के साथ बैठेंगे. कपिल समेत चार विधायकों की सिटिंग में बदलाव हुआ है.

इससे पहले कपिल ने कहा था मैं आज एफआईआर दर्ज कराउंगा. केजरीवाल को गुरु बताते हुए कहा - 'आज दिल्ली विधानसभा की असेम्बली है. आप खुद को बचाने की कोशिश करेंगे. आप खुद ही दलील देंगे. आप खुद ही जज खुद ही मुजरिम और खुद ही गवाह बनेंगे.' कपिल ने केजरीवाल को चुनाव लड़ने की भी चुनौती दी. नीचे पढ़ें कपिल मिश्रा का पूरा ख़त...



उधर, कपिल मिश्रा के आरोपों के बाद मंगलवार को एक बार फिर केजरीवाल ने कहा कि यह एक बड़ी साजिश का हिस्सा है. उन्होंने कहा, आज सौरभ भारद्वाज दिल्ली असेम्बली में बड़ा खुलासा करेंगे. केजरीवाल ने ट्वीट कर यह जानकारी दी.

 



संजय सिंह ने की रूस में डीलिंग
इस बीच कपिल मिश्रा ने कहा है कि अगर 'आप' नेताओं के विदेश दौरों का ब्योरा सार्वजनिक नहीं किया जाएगा तो बुधवार से वह भूख हड़ताल करेंगे. मिश्रा ने आरोप लगाया कि संजय सिंह ने रूस में गैर कानूनी डीलिंग की.

बीजेपी नेता स्वामी ने कहा, सबलोग सदमे में हैं. गुंडे-बदमाश पकड़े जाते हैं तो कोई नहीं पूछता. देश बहुत शॉक है. उधर, केजरीवाल पर कपिल की टिप्पणी के बाद संजय सिंह ने कहा, गुरु-शिष्य परम्परा को अपमानित किया है. इससे पहले केजरीवाल की पत्नी सुनीता ने भी कपिल की आलोचना की और उन्हें बेवकूफ तक कहा. पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

PHOTO: Vivek Mathpal/NEWS18

पढ़िए कपिल मिश्रा का खुला ख़त
'मैं केजरीवाल को 15 साल से जानता हूं. उनकी हर बात हर चाल समझता हूं. केजरीवाल मेरी विधानसभा की सदस्यता रद्द करवाना चाहते हैं. मैं उन्हें चैलेंज करता हूं कि मेरी करावल नगर सीट या आपकी नई दिल्ली सीट पर हम चुनाव लड़ लेते हैं.

मैंने पहले दिन कहा था की एसीबी और सीबीआई दोनों में जाऊंगा. मैं सीबीआई के पास जाऊंगा. टाइम मिला तो विशेष सत्र भी अटेंड करूंगा.

आज आपके खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने जा रहा हूं. जिन केजरीवाल को देखकर सब सीखा आज उनसे ही जीवन का सबसे बड़ा युद्ध लड़ने के लिए आशीर्वाद मांग रहा हूं. केजरीवाल जी आपका दिल जानता है की सत्येन्द्र जैन से आपके क्या संबंध हैं. आप जानते हैं केजरीवाल जी की अगर मैं पत्र नहीं लिखता एसीबी को तो आप मुझे आनन-फानन में नहीं हटाते.

आपने छल-कपट, भ्रष्टाचार का एक चक्रव्यूह बनाया है. मैं आपकी हर चाल को जानता हूं समझता हूं. सीबीआई को सब बताऊंगा जो-जो मैंने देखा है. वह घर आपका है, सब लोग आपके हैं. मैं भरोसा दे रहा हूं आपसे सीखा है कि लडूंगा या तो चक्रव्यूह को तोड़ दूंगा या मार दिया जाऊंगा.

अगर थोड़ी सी भी नैतिकता बची है तो मेरी एक चुनौती स्वीकार कर लीजिये. मैं भी इस्तीफा देता हूं आप भी दीजिए. आये लड़ते हैं चुनाव. है हिम्मत आपके अन्दर जनता के सामने जाने की मैं. इस्तीफा देने के लिए तैयार हूं.

आपके खिलाफ एफआईआर करूंगा. क्षमाप्रार्थी हूं. एक तरह से केजरीवाल मेरे भगवान मेरे गुरु रहे हैं, लेकिन एक तरफ वह सारा पैसा, सारी ताकत लेकर खड़े हैं, मै अकेला हूं. केजरीवाल जी को मालूम नहीं है कि मेरे पास क्या है. मैं सब सीबीआई के सामने रखूंगा. सत्येन्द्र जैन बहुत पैसे वाले आदमी हैं. मेरे पास वकील के लिए पैसे नहीं हैं. इसलिए मैं सीबीआई में जाऊंगा.'



आप में दो दिनों से उथल-पुथल
दिल्ली के पूर्व जल मंत्री कपिल मिश्रा के आरोपों के चलते आम आदमी पार्टी में पिछले दो दिनों से उथल-पुथल मची है. कपिल मिश्रा ने दिल्ली के सीएम अ​रविंद केजरीवाल पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन से दो करोड़ रुपए लेने का आरोप लगाया था.

टैंकर घोटाले में एसीबी को कथित तौर पर सबूत सौंपने के बाद मंगलवार को वो सीबीआई जाएंगे. उधर दिल्ली असेम्बली में आज स्पेशल सेशन आयोजित होगा.

​इससे पहले सोमवार शाम उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया. कपिल मिश्रा ने सत्येंद्र जैन पर केजरीवाल के साढ़ू एसके बंसल के लिए 50 करोड़ का जमीद सौदा कराने का आरोप भी लगाया था.

मिश्रा ने कहा कि सत्येंद्र जैन ने मुझे बताया था कि उन्होंने बंसल परिवार के लिए छतरपुर में सात एकड़ की जमीन का सौदा किया है. साथ ही केजरीवाल के रिश्तेदार को फायदा पहुंचाने के लिए 10 करोड़ तक के बिल से छेड़छाड़ भी की है.

भ्रष्टाचार के इन आरोपों की शिकायत के लिए कपिल मिश्रा पहले उप राज्यपाल अनिल बैजल से मिले थे और फिर सोमवार सुबह वह एंटी करप्शन ब्रांच पहुंचे थे. अब उनका कहना है कि वह मंगलवार सुबह 11:30 बजे सीबीआई के पास शिकायत दर्ज कराएंगे.



पिछले तीन दिनों में क्या हुआ


सोमवार
- पीएसी की बैठक में कपिल मिश्रा को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया.

- अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, 'जीत सत्य की होगी, कल दिल्ली विधान सभा के विशेष सत्र से इसकी शुरुआत होगी'.

- कपिल मिश्रा ने भ्रष्टाचार निरोधक शाखा (एसीबी) से संपर्क कर वॉटर टैंकर घोटाले में सबूत सौंपे. हालांकि केजरीवाल पर लगे आरोपों को लेकर कोई सबूत नहीं सौंपा.  - कपिल ने कहा सीसीटीवी की जांच कराइए मामले का पता चल जाएगा.

- ये आरोप भी लगाया है कि स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने केजरीवाल के साढ़ू के लिए दक्षिणी दिल्ली के छतरपुर इलाके में 50 करोड़ रुपए का एक सौदा कराया है.

- मिश्रा ने केजरीवाल और जैन के साथ खुद के लाई डिटेक्टर टेस्ट कराने की चुनौती दी.

- एसीबी चीफ ने दिल्ली के एलजी से मुलाक़ात के बाद कहा कि कपिल मिश्रा के आरोपों पर क़ानून के मुताबिक मामला दर्ज होगा.

रविवार
- कपिल मिश्रा ने राजघाट में प्रेस कॉन्फ्रेंस की. आरोप लगाया कि सत्येन्द्र जैन ने केजरीवाल को 2 करोड़ रुपये दिए. उनके रिश्तेदार के लिए 50 करोड़ की डील कराई.

- मिश्रा ने कहा, वे एसीबी में सबूत सौपेंगे.

- कुमार विश्वास समेत आप के बड़े नेताओं ने कपिल मिश्रा के आरोप को बेबुनियाद करार दिया.

शनिवार
- केजरीवाल ने कपिल मिश्रा को मंत्रिमंडल से बाहर किया.

- मनीष सिसौदिया ने कहा, दिल्ली में वॉटर क्राइसिस की वजह से फैसला लिया गया.

- कपिल मिश्रा ने कहा भ्रष्टाचार उजागर करने के डर से ऐसा फैसला किया गया. मंत्रियों के भ्रष्टाचार के खुलासे की बात कही.

ये भी पढ़ें

आप का पलटवार, कहा- बीजेपी से मिल गए हैं कपिल मिश्रा

पद से हटाए जाने के बाद बोले कपिल मिश्रा - मेरे खुलासे से डरकर ऐसा किया गया 
First published: May 9, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर