इंदु सरकार पर तकरार देख मधुर भंडारकर को दी गई सुरक्षा

शिखा धारीवाल | News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 4:40 PM IST
इंदु सरकार पर तकरार देख मधुर भंडारकर को दी गई सुरक्षा
मधुर भंडारकर की इस फिल्म में नील नितिन मुकेश लीड रोल में हैं.
शिखा धारीवाल | News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 4:40 PM IST
मधुर भंडारकर की फिल्म इंदु सरकार के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन को देख अब उन्हें सिक्योरिटी दी गई है. मधुर ने कहा, मेरी बेटी और मेरा पूरा परिवार इस सबसे काफी डर गए हैं. मुझे उम्मीद नहीं थी कि ऐसा होगा. लेकिन पुणे और नागपुर के बाहर मेरे होटेल के सामने डरावना माहौल बन गया है.

बता दें प्रदर्शन को देखते हुए भंडारकर ने नागपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस भी कैंसल करनी पड़ी थी. फिल्म इतिहास में ऐसी घटना पहली बार जब एक्टर और डायरेक्टर दोनों को होटेल में बंद होना पड़ा और प्रमोशन कैंसल करना पड़ा.

उन्होंने कहा, समझ नहीं आ रहा कि इतनी पुरानी पार्टी कांग्रेस आखिर मेरी एक छोटी सी फिल्म से डर गयी. उन्होंने नागपुर में हुई घटना के बाद राहुल गांधी से सवाल करते हुए एक ट्वीट भी किया था।

उन्होंने बताया, मुझे सेंसर बोर्ड का भी समझ नहि आया कुल 16 सीन काटने के लिए बोला है. अब जो डायलॉग ट्रेलर और प्रोमो में सही लगे उन सीन्स के फिल्म में होने पर सेंसर बोर्ड को परेशानी है. लेकिन मैं वो सब डिलीट नहीं करूंगा.

मधुर भंडारकर ने बताया कि सेंसर बोर्ड को आरएसएस और गांधी जैसे शब्दों से दिक्कत है. उन्होंने कहा, नितेश राणे बोलें अपने लोगों से कि मेरे साथ सभ्यता से पेश आएं. मुझे सपोर्ट करे फिल्म रिलीज होने दें. पुणे और नागपुर के हालात देखते हुए हालात देखते हुए मुझे सिक्योरिटी दे दी गई है.

यह भी पढ़ें:

'इंदु सरकार' को लेकर इंदौर में बवाल
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर