बिग बॉस 6: इमाम लौटे, राजीव-डेलनाज की आंखों में आंसू

News18India.com

Updated: January 4, 2013, 5:56 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

नई दिल्ली। बिग बॉस के घर का माहौल गर्म होता जा रहा है। एक बार फिर घर में कुए ऐसे ट्विस्ट आए जिसने माहौल को और दिलचस्प हो गया। खास तौर पर इमाम को लेकर बिग बॉस के भी पसीने छूट गए। उधर, राजीव और डेलनाज के बीच तकरार ने कुछ अलग ही तरह के संकेत दिए।

सीक्रिट रूम में बैठे इमाम से जब बिग बॉस ने दोबारा घर के अंदर जाने को कहा तो इमाम ने साफ इनकार कर दिया। इमाम किसी भी सूरत में घर के अंदर जाने को तैयार नहीं थे और बाहर निकलने की जिद पर अड़ गए। बिग बॉस ने उन्हें मनाने की कोशिश की लेकिन इमाम नहीं माने। इस पर बिग बॉस ने इमाम को सोचने के लिए थोड़ा वक्त दिया।

बिग बॉस 6: इमाम लौटे, राजीव-डेलनाज की आंखों में आंसू
इस बार इमाम को लेकर बिग बॉस के भी पसीने छूट गए। उधर, राजीव और डेलनाज के बीच तकरार ने कुछ अलग ही तरह के संकेत दिए।

दोबारा बात होने पर इमाम ने बिग बॉस की बात मानने से फिर इनकार कर दिया और घऱ जाने की जिद पर अड़ गए। बिग बॉस के लाख समझाने पर भी इमान नहीं माने। अब बिग बॉस ने फिर से इमाम को सोचने के लिए थोड़ा वक्त दिया। तीसरी बार बिग बॉस ने इमाम से बात की और कहा कि घऱ में एक दिलचस्प खेल होने वाला है। इस पर इमाम थोड़ा नर्म पड़े और घऱ के अंदर जाने को राजी हुए।

सीक्रेट रूम से इमाम की री एंट्री से हर कोई चौंक गया। इमाम अपने खास अंदाज में अंदर आए और सबसे निपटने की चेतावनी दे डाली। घर में पूरी तरह से सन्नाटा छा गया। सपना इमाम को शांत करने की कोशिश में रही लेकिन वो सुनने को ही तैयार नहीं थी। इमाम के अंदाज से लग रहा था कि घर में एक और हंगामा होने को तैयार है।

इसी बीच घर में एक और दिलचस्प वाकया दिखा जब डेलनाज राजीव को लेकर भावुक नजर आईं। उन्होंने इशारों में साफ कर दिया कि राजीव और सना की नजदीकी से उन्हें दुख होता है। इससे पहले डेलनाज यही कहती रहीं हैं कि राजीव से उन्हें कोई मतलब नहीं है और राजीव से अब भविष्य में कभी दोबारा करीबी नहीं हो सकती। डेलनाज की शिकायत पर राजीव ने सफाई देनी चाही लेकिन डेलनाज ने सुनने से ही इनकार कर दिया। इसे लेकर डेलनाज की आंखों में आंसू भी आ गए। बाद में राजीव भी पुरानों बातों को सोचकर रो पड़े।

First published: January 4, 2013
facebook Twitter google skype whatsapp