इंटरव्‍यू: मनीषा कोइराला ने कहा- PAK के साथ सुधरे भारत का रिश्ता

संदीप सोनवलकर | News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 11:37 AM IST
इंटरव्‍यू: मनीषा कोइराला ने कहा- PAK के साथ सुधरे भारत का रिश्ता
अपनी जिंदगी में कई गलतियां की और उनका खामियाजा भी भुगता है
संदीप सोनवलकर | News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 11:37 AM IST
'बॉम्बे', 'सौदागर' और '1942 लव स्टोरी' जैसी हिट फ़िल्में देने वाली मनीषा कोइराला लगभग 3 साल बाद बड़े पर्दे पर वापसी कर रही हैं. जल्द ही फ़िल्म डियर माया में नजर आने वाली मनीषा ने न्यूज 18 के रेजिडेंट एडिटर संदीप सोनवलकर से ख़ास बातचीत की.

मनीषा ने बताया कि वो भारत के प्रधानमंत्री मोदी की फैन हैं. अपने तीन साल का कार्यकाल पूरा कर चुकी मोदी सरकार से उन्हें काफी उम्मीदें हैं. मनीषा ने कश्मीर समस्या पर बात करते हुए कहा, "कश्मीर के कई युवा मुख्यधारा से जुड़ना चाहते हैं, ऐसे में सरकार को उनकी मदद करनी चाहिए."

मनीषा ने कुलभूषण जाधव के मामले में कहा, "मैं इस बारे में ज्यादा नहीं जानती पर भारत और पाकिस्तान के रिश्ते सुधरने ही चाहिए और पाकिस्तान ही क्यों भारत के बेहतर संबंध तो नेपाल के साथ भी होने चाहिए."

अपने निजी जीवन के बारे में बात करते हुए मनीषा ने कहा,  "मैंने अपने जीवन में कई गलतियां की हैं और उनका खामियाजा भी भुगता है. मेरी गलतियों का असर मेरी जिंदगी और मेरी सेहत पर भी पड़ा. जब मुझे कैंसर हुआ तो मैं  एकदम अकेले रहना चाहती थी."

मनीषा ने अपनी फ़िल्म के बारे में बताया, "डियर माया की कहानी मेरी जिंदगी की कहानी से काफी मिलती जुलती है. डियर माया में मनीषा एक ऐसी औरत का किरदार निभा रही हैं जो अपने आपको एक हवेली में कैद कर लेती है, लेकिन दो लड़कियां एक खत लिखकर माया के दिल में प्यार जगा देती है और उसके बाद शुरू होती है माया की खोज."

मनीषा कोइराला इस फ़िल्म के बाद कैंसर पर एक किताब लिखेंगी जिसमें उनकी अपनी जीवन की कहानी और कैंसर से लड़ने के सुझाव भी होंगे.

मनीषा ने इस एक्सक्लूसिव बातचीत में यह भी बताया कि वो राजनीतिक परिवेश में पली बढ़ी हैं तो ना ही राजनीति से दूर जा सकती हैं और ना ही राजनीति के करीब रहना चाहती है फ़िलहाल उनका पूरा ध्यान सिर्फ फ़िल्मों पर है.

मनीषा डियर माया के बाद संजय दत्त की बायोपिक में संजय की मां नर्गिस दत्त के किरदार में नजर आएंगी
First published: May 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर