फिल्म 'शिवाय' को अपने जन्मदिन का तोहफा मानती हैं सायशा

आईएएनएस

Updated: November 5, 2016, 11:22 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

मुंबई। अपनी पहली फिल्म 'शिवाय' में शानदार अभिनय के लिए तारीफें बटोर रहीं अभिनेत्री सायशा का मानना है कि अभिनय एक ऐसा स्किल है जो सीखा नहीं जा सकता। सायशा ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि अभिनय सीखा जा सकता है, अगर आपकी भाव-भंगिमा अर्थपूर्ण है तो यह स्वाभाविक रूप से हो जाता है। अभ्यास के जरिए सिर्फ कैमरे के साथ सहज हुआ जा सकता है।

सायशा ने 'शिवाय' के लिए सोलह साल की उम्र में ऑडिशन दिया था और उन्होंने यह फिल्म अपने 17वें जन्मदिन पर साइन किया, इसे वह जन्मदिन का तोहफा मानती हैं। दिलीप कुमार और सायरा बानो की नातिन सायशा ने बताया कि कैसे दोनों ने उनके करियर को प्रभावित किया।

फिल्म 'शिवाय' को अपने जन्मदिन का तोहफा मानती हैं सायशा
सायशा ने 'शिवाय' के लिए सोलह साल की उम्र में ऑडिशन दिया था और उन्होंने यह फिल्म अपने 17वें जन्मदिन पर साइन किया, इसे वह जन्मदिन का तोहफा मानती हैं।

सायशा ने कहा कि हमारे घर में फिल्मों की बातें कम होती थीं। बड़े होने के दौरान मैं खूब पढ़ाई करती थी। हालांकि, दिलीप जी मुझे बताते थे कि कैसे वह स्क्रीनप्ले को सामने रख अच्छी तरह तैयारी करते और फिल्म के सेट पर जाते थे। उनकी इस आदत को अब मैंने अपना लिया है। सायरा जी ने मुझे ओडिसी नृत्य सीखने के लिए प्रेरित किया।

First published: November 5, 2016
facebook Twitter google skype whatsapp