पढ़ें: फिल्म ‘बैटल ऑफ सारागढ़ी’ की कहानी, राजकुमार संतोषी की जुबानी

स्मिता चंद | News18India.com

Updated: September 13, 2016, 4:23 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

नई दिल्ली। बॉलीवुड के मशहूर निर्देशक राजकुमार संतोषी 1897 में हुई सारागढ़ी की लड़ाई पर फिल्म बना रहे हैं। फिल्म का नाम है ‘बैटल ऑफ सारागढ़ी’ इस फिल्म में मुख्य भूमिका निभा रहे हैं रणदीप हुड्डा।  रणदीप हवलदार इशर सिंह की भूमिका में नजर आएंगे।  दिल्ली में इस फिल्म का खास मुहूर्त रखा गया। फिल्म के निर्देशक राजकुमार संतोषी से इस खास मौके पर आईबीएनखबर से खास बातचीत की। पेश हैं उसके कुछ अंश।

सवाल: आपने फिल्म बनाने के लिए 'सारागढ़ी' की लड़ाई का टॉपिक क्यों चुना?

पढ़ें: फिल्म ‘बैटल ऑफ सारागढ़ी’ की कहानी, राजकुमार संतोषी की जुबानी
बॉलीवुड के मशहूर निर्देशक राजकुमार संतोषी 1897 में हुई सारागढ़ी की लड़ाई पर फिल्म बना रहे हैं। फिल्म का नाम है ‘बैटल ऑफ सारागढ़ी’ इस फिल्म में मुख्य भूमिका में रणदीप हुड्डा हैं।

जवाब: मैंने किताबों में इसके बारे में पढ़ा था, मैंने सोचा हमारे देश के इतिहास में कई वीर जवानों की कहानियां दफ्न हैं, जिसे आज की जनरेशन के लोग नहीं जानते हैं। उनको ये सब बताने की जरूरत हैं, मैं पिछले 6 सालों से इस विषय पर काम कर रहा था, मैंने कई ऐतिहासिक किताबें पढ़ीं, तब जाकर इस विषय पर फिल्म बनाने का फैसला किया।

सवाल: फिल्म के हीरो के रोल के लिए रणदीप हुड्डा की क्यों?

जवाब: जब मैंने फिल्म 'सरबजीत' देखी तो रणदीप के एक्टिंग का कायल हो गया। मुझे लगा कि अगर मेरी फिल्म में कोई होगा तो रणदीप ही होंगे, इसलिए मैंने उन्हें इस फिल्म का ऑफर दिया और वो भी तुरंत तैयार हो गए।

सवाल: ये फिल्म 1897 पर आधारित है, तो इस तरह के माहौल के लिए आप शूटिंग कहां करेंगे?

जवाब: फिल्म की कहानी 1897 की है, इसलिए इसकी लोकेशन भी उसी हिसाब से होगी। हम ऐसे गांव की तलाश कर रहे हैं, जहां बिजली भी ना हो और वो विकास से दूर हो। एक-दो महीने में हमारी तलाश पूरी हो जाएगी तो हम शूटिंग शुरु कर देंगे।

सवाल: फिल्म के मुहुर्त में पूर्व सैनिकों को सम्मानित करने का ख्याल क्यों आया?

जवाब: मेरी फिल्म सिक्ख जवानों पर आधारित है, इसलिए मैंने सोचा कि मुंबई में मुहूर्त करुंगा तो फिल्म स्टार्स आ जाएंगे, लेकिन ऐसा तो हमेशा ही होता है, इसलिए मुझे ख्याल आया कि क्यों ना ऐसे सैनिकों को बुलाया जाए, जिन्होंने देश के लिए अपने जान की बाजी लगा दी, जो देश के असली हीरो हैं। हमारी टीम ने ऐसे रिटायर सैनिकों को ढूंढ़ा जिसने देश के लिए अपने हाथ, अपने पैर यहां तक कि अपनी आंखें भी गंवा दीं। हमने पंजाब के अलग-अलग शहरों से इन 21 जवानों को बुलाकर सम्मानित करने का फैसला किया। इन जवानों ने कई आतंकियों को मारकर अपने देश की रक्षा की है।

randip

सवाल: सारागढ़ी की लड़ाई पर ही अजय देवगन भी फिल्म बना रहे हैं, तो क्या आपकी फिल्म के लिए कोई खतरा होगा?

जवाब: अजय देवगन भी इस टॉपिक पर फिल्म बना रहे हैं, इस बारे में मुझे ज्यादा जानकारी नहीं है। रही बात मेरी फिल्म से कॉम्पटीशन की तो ऐसी कोई बात नहीं है। अजय मेरे अच्छे दोस्त हैं हमने एक साथ कई फिल्में की हैं मेरा उनसे कोई कॉम्पटीशन नहीं है।

First published: September 13, 2016
facebook Twitter google skype whatsapp