काजोल की एटेंडेंस पर बवाल, चुकानी पड़ सकती है ये कीमत

Sushant Mohan | News18India
Updated: May 19, 2017, 9:34 PM IST
काजोल की एटेंडेंस पर बवाल, चुकानी पड़ सकती है ये कीमत
काजोल के गैर हाज़िर रहने का मामला तूल पकड़ रहा है. (फ़ोटो - काजोल ट्विटर)
Sushant Mohan | News18India
Updated: May 19, 2017, 9:34 PM IST
प्रसार भारती बोर्ड की सदस्या अभिनेत्री काजोल के बोर्ड मीटिंग से नदारद रहने का मामला तूल पकड़ता नज़र आ रहा है. काजोल साल 2016-17 में दूरदर्शन और ऑल इंडिया रेडियो को चलाने वाली संस्था प्रसार भारती की सदस्य बनाई गईं थीं. लेकिन काजोल पर आरोप है कि वो एक भी बार मीटिंग के लिए नहीं आई और बोर्ड को 'न आने' की कोई सूचना भी नहीं दी गई.

प्रसार भारती के बोर्ड नियमों के अनुसार, "अगर कोई सदस्य तीन बार से ज़्यादा, बिना किसी सूचना के बोर्ड मीटिंग से नदारद रहता है तो उसे अपनी सदस्यता गंवानी पड़ सकती है." काजोल पर आरोप है कि वो बोर्ड की पिछली 4 मीटिंग में नदारद रहीं थी और इसके चलते उनपर एक्शन लिया जा सकता है.

प्रसार भारती बोर्ड का काम दूरदर्शन और ऑल इंडिया रेडियो के संचालन के अलावा इस पर प्रसारित होने वाले कंटेंट को निर्धारित करने का होता है. सिनेमा के कंटेट पर सुझाव देने के लिए काजोल को इस बोर्ड में शामिल किया गया है.

प्रसार भारती बोर्ड सदस्यों की लिस्ट से काजोल की तस्वीर और संपर्क गायब हैं.
प्रसार भारती बोर्ड सदस्यों की लिस्ट से काजोल की तस्वीर और संपर्क गायब हैं.


काजोल के अलावा निर्माता निर्देशक मुज़फ्फर अली और भजन गायक अनूप जलोटा भी इस बोर्ड के सदस्य हैं और लगातार बोर्ड मीटिंग में मौजूद रहे हैं. बोर्ड सदस्यों को मिलने वाली धनराशि भी एक बड़ा सवाल है जो बतौर सदस्य काजोल को भी मिलनी चाहिए.

फ़िलहाल इस मामले पर काजोल की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है और प्रसार भारती की वेबसाईट पर मौजूद बोर्ड सदस्यों की लिस्ट से काजोल की तस्वीर और उनकी कोई भी संपर्क सूचना नदारद है.
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर