ठंड के कारण चिल ब्लेंस का शिकार हो रही महिलाएं

वार्ता

Updated: January 2, 2013, 8:42 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत राज्य के अन्य हिस्सों में तापमान के पांच डिग्री के आसपास बने रहने के कारण खासकर घरेलू महिलाएं चिल ब्लेंस बीमारी का शिकार हो रही हैं। कारण यह कि घरेलू महिलाओं को अधिकतर रसोईघर में रहना पडता है जिससे ठंड के कारण उनके हाथ पैर की ऊंगलियों में सूजन आ रही है। इस बीमारी को चिल ब्लेंस कहते हैं।

डॉक्टरों का मानना है कि यह बीमारी आगामी फरवरी तक बनी रहेगी। उत्तर प्रदेश के सरकारी और निजी अस्पतालों में चिल ब्लेंस की शिकार लोग पहुंच रहे हैं जिनमें अधिकतर महिलाएं हैं। चर्म रोग की विशेषज्ञों का कहना है कि ठंड के कारण हाथ, पैर की ऊंगलियां और कान का निचला हिस्सा लाल होकर सूज जाता है। इन अंगों में कभी तेज खुजली, गर्माहट या जलन होती है और जख्म भी बन जाता है।

ठंड के कारण चिल ब्लेंस का शिकार हो रही महिलाएं
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत राज्य के अन्य हिस्सों में तापमान के पांच डिग्री के आसपास बने रहने के कारण खासकर घरेलू महिलाएं चिल ब्लेंस बीमारी का शिकार हो रही हैं।

इससे स्किन कैंसर का खतरा भी बना रहता है। यह समस्या दिसंबर और जनवरी में ज्यादा होती है क्योंकि इस दौरान ठंड सबसे ज्यादा होती है।

First published: January 2, 2013
facebook Twitter google skype whatsapp