अगर आप भी लेते हैं स्ट्रेस तो हो सकती है ये बीमारियां

आईएएनएस
Updated: April 8, 2017, 11:45 AM IST
अगर आप भी लेते हैं स्ट्रेस तो हो सकती है ये बीमारियां
स्ट्रेस की वजह से लोग ऐसी चीजें खाना ज्यादा पसंद करने लगते हैं, जिनमें ट्रांसफैट, नमक और चीनी की ज्यादा मात्रा होती है.
आईएएनएस
Updated: April 8, 2017, 11:45 AM IST
हम ऐसे दौर में जी रहे हैं, जिसमें स्ट्रेस(तनाव) जिंदगी का एक अंग बन गया है. स्ट्रेस हमारी मानसिक सेहत पर असर डाल सकता है, जो बेचैनी और डिप्रेशन की वजह बनता है. स्ट्रेस की वजह से लोग ऐसी चीजें खाना ज्यादा पसंद करने लगते हैं, जिनमें ट्रांसफैट, नमक और चीनी की ज्यादा मात्रा होती है. इन चीजों से मोटापा, दिल का रोग, हाईपरटेंशन और डायबिटीज जैसी बीमारियां होने की आशंका रहती हैं.

स्ट्रेस इंसान को तंबाकू, शराब और कई अन्य नशों के लिए भी प्रेरित करता है और नशे का आदी बना देता है. स्ट्रेस आज लाइफस्टाइल से जुड़ी कई बीमारियों का कारण बन चुका है, इसलिए स्ट्रेस का प्रबंधन अब बेहद जरूरी हो गया है.

रिसर्च में यह बात सामने आई है कि गुस्सा और आक्रामकता दिल के रोगों का नया खतरा बन कर उभर रहा है. यहां तक कि गुस्से की हालत को दोबारा याद करने से भी दिल का दौरा प्रोत्साहित होता है. रिसर्च में यह भी पाया गया है कि अगर डॉक्टर आईसीयू में बेहोश मरीज के सामने नकारात्मक बातें करने की बजाय सकारात्मक बातें करें तो उसके नतीजे बेहतर निकलते हैं.

सबसे बेहतर तरीका है अपने विचारों, बोलों और क्रियाओं में मौन को लाना. प्राकृतिक  माहौल में शांत मन से केवल सैर करते हुए और प्राकृति की सुंदर आवाजों को सुनते हुए बिताना 20 मिनट के ध्यान के बराबर प्रभावशाली होता है. 20 मिनट के ध्यान से वही मानसिक ऊर्जा प्राप्त होती है जो सात घंटे की नींद से मिलती है.
First published: April 8, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर