दूध में मौजूद विटामिन, कीमोथेरेपी का दर्द रोकने में होता है मददगार

आईएएनएस

Updated: February 27, 2017, 7:55 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

दूध में पाया जाने वाला एक विटामिन कीमोथेरेपी दवाओं की वजह से होने वाले नसों में दर्द को रोकने और इलाज में उपयोगी हो सकता है. एक रिसर्च में यह बात सामने आई है. रिसर्चस ने दूध में मौजूद निकोटिनामाइड रिबोसाइड (एनआर) के प्रभाव को स्टडी किया. यह विटामिन बी3 का एक प्रकार है.

कीमोथेरेपी का इस्तेमाल आमतौर पर स्तन और गर्भाशय कैंसर इलाज के लिए किया जाता है. कीमोथेरेपी से कैंसर से बचने की दर में इजाफा हुआ है. उपचार की इस प्रक्रिया में इस्तेमाल की जानी वाली दवाओं के कई साइड इफेक्ट्स भी होते हैं, इसलिए जीवित बचे लोगों और रोगियों के जीवन गुणवत्ता में कमी होना लाजिमी है.

दूध में मौजूद विटामिन, कीमोथेरेपी का दर्द रोकने में होता है मददगार
दूध में पाया जाने वाला एक विटामिन कीमोथेरेपी दवाओं की वजह से होने वाले नसों में दर्द को रोकने और इलाज में उपयोगी हो सकता है.

खासतौर पर कई कैंसर-रोधी दवाएं कीमोथेरेपी प्रेरित परिधीय न्यूरोपैथी (सीआईपीएन) से तंत्रिका यानी नसों को नुकसान पहुंचता है और मरीज को बेहद दर्द होता है. अमेरिका के आईओवा विश्वविद्यालय के रिसर्चर मार्ता हामिटी ने कहा कि कीमोथेरेपी-प्रेरित परिधीय न्यूरोपैथी का असर इलाज पूरा होने के बाद भी बना रह सकता है. इससे कैंसर के मरीज की जीवन की गुणवत्ता गंभीर रूप से प्रभावित होती है.

हामिटी ने कहा कि हमारी रिपोर्ट इस विचार का समर्थन करते हैं कि एनआर का इस्तेमाल कैंसर मरीजों में सीआईपीएन को कम करने में या रोकने में इस्तेमाल किया जा सकता है. इससे उनके जीवन की गुणवत्ता में महत्वपूर्ण सुधार होगा.

 

 

First published: February 27, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp