फीफा विश्व कप: नीदरलैंड्स ने जापान को 1-0 से हराया

आईएएनएस

First published: June 19, 2010, 1:40 PM IST | Updated: February 26, 2015, 5:55 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
फीफा विश्व कप: नीदरलैंड्स ने जापान को 1-0 से हराया
इस जीत के साथ ही नीदरलैंड्स की टीम प्रतियोगिता के अंतिम 16 में अपनी जगह पक्की कर दूसरे दौर में प्रवेश कर गई है।

डरबन। फीफा विश्व कप-2010 में ग्रुप-ई के तहत शनिवार को खेले गए एक अहम मुकाबले में नीदरलैंड्स ने जापान को 1-0 से पराजित कर दिया। इस जीत के साथ ही नीदरलैंड्स की टीम प्रतियोगिता के अंतिम 16 में अपनी जगह पक्की कर दूसरे दौर में प्रवेश कर गई है।

नीदरलैंड्स ने खेल के 53वें मिनट में पहला गोल किया और खेल खत्म होने तक उसने यह बढ़त कायम रखी। उसके खिलाड़ी वी. पेरसी के जरिये बॉक्स के बाहर मिले एक पास को तेज तर्रार खिलाड़ी स्नीजडेर ने सीधे गोल में तब्दील कर अपनी टीम को मैच में 1-0 की बढ़त दिलाई।

स्नीजडेर का यह शॉट इतना तेज था कि जापानी गोलकीपर कावाशीमा के लिए रोक पाना संभव नहीं हुआ। उन्होंने हालांकि गोल बचाने की भरपूर कोशिश की लेकिन गेंद उनके हाथ से छिटककर गोल पोस्ट में जा समाई। इस शानदार प्रदर्शन के लिए स्नीजडेर को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

अंतर्राष्ट्रीय मैचों में नीदरलैंड्स के लिए स्नीजडेर का यह 15वां गोल था। वह 63 मैचों में नीदरलैंड्स का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं।

88वें मिनट में नीदरलैंड्स की टीम एक और गोल करते-करते रह गई। उसके खिलाड़ी अफेले ने गोलपोस्ट को निशाना बनाकर गेंद दागा जिसे बचाने में गोलकीपर कावाशीमा सफल रहे। गेंद हालांकि उनके हाथ से छूटकर गोलपोस्ट की ओर जा रही थी तभी एक जापानी डिफेंडर ने उसे क्लीयर कर गोल बचाया।

खेल के 90वें मिनट में जापान की ओर से भी एक जबरदस्त हमला हुआ। ओकाजाकी ने गोलपोस्ट को निशाना बनाकर गेंद मारा लेकिन गेंद गोलपोस्ट को छूती हुई ऊपर से निकल गई। इसके बाद जापानी खिलाड़ियों ने ताबड़तोड़ कई हमले किए लेकिन उनके प्रयास विफल रहे।

इससे पहले, मध्यांतर तक यह मैच 0-0 की बराबरी पर छूटा। इस दौरान दोनों टीमों ने गोल करने का भरपूर प्रयास किया लेकिन सफलता किसी के हाथ नहीं लगी। दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने गोल करने के कई मौके भी गंवाए।

फीफा रैंकिंग में चौथी वरीयता प्राप्त नीदरलैंड्स की टीम 45वीं वरीयता प्राप्त जापान पर मध्यांतर तक हावी रही थी लेकिन उसके खिलाड़ी कई अहम मौकों को गोल में तब्दील करने में असफल रहे।

जापान ने मध्यांतर से 15 मिनट पहले अच्छे खेल का प्रदर्शन किया और उसके खिलाड़ियों ने इस दौरान कई हमले भी किए लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिल पाई।

दोनों टीमों का इस विश्व कप में आज दूसरा मैच था। जापान ने अपने पहले मैच में कैमरून को हराया था जबकि नीदरलैंड्स ने डेनमार्क को 2-0 से पराजित किया था।

बहरहाल जापान का अगला मुकाबला आगामी 24 जून को डेनमार्क को होना है। अगले दौर में पहुंचने के लिए जापान को यह मैच हर हाल में जीतना होगा।

वर्ष 1998 में विश्व कप के लिए क्वोलीफाई करने के बाद जापान ने लगातार सभी विश्व कप मैच खेले हैं। वह एशिया की चैम्पियन टीम भी है। 1992, 2000 और 2004 में वह एशियाई फुटबाल का बादशाह बना था।

नीदरलैंड्स ने कभी भी विश्व कप फुटबाल का ताज नहीं जीता है लेकिन वह दो बार 1974 और 1978 में फाइनल में पहुंच चुकी है और क्रमश: पश्चिम जर्मनी और अर्जेटीना के हाथों पराजित हो चुकी है।

facebook Twitter google skype whatsapp