नाहन में तालाब के सौंदर्यीकरण का काम हादसों को दे रहा न्योता

satish sharma | ETV Haryana/HP
Updated: July 17, 2017, 7:06 PM IST
नाहन में तालाब के सौंदर्यीकरण का काम हादसों को दे रहा न्योता
इस तालाब का सौंद्रयीकरण होना है
satish sharma | ETV Haryana/HP
Updated: July 17, 2017, 7:06 PM IST
हिमाचल प्रदेश के नाहन में नगर परिषद की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में है. नगर परिषद ने बरसात का मौसम शुरु होने के बाद काली स्थान तालाब के सौंदर्यीकरण का कार्य शुरू किया है. लगातार हो रही बारिश के कारण इस कार्य को बीच में ही रोकना पड़ा. मगर अब यह स्थान हादसों को न्योता दे रहा है.

नगर परिषद द्वारा दूसरे चरण में करीब 7 लाख रूपये खर्च कर काली स्थान तालाब के सौंदर्यीकरण का कार्य किया जा रहा है, जिसपर स्थानीय लोगो ने गंभीर सवाल उठाए हैं. लोगों का कहना है कि परिषद ने बरसात के समय में सौंदर्यीकरण का कार्य शुरू करवाया है जबकि ऐसे समय में कोई भी निर्माण कार्य नही हो सकता.

नाहन के ​नीतिश गुप्ता की मानें तो ठेकेदार ने तालाब के चारों तरफ लगी जाली को निकाल दिया है जिससे अब यहां डूबने का खतरा पैदा हो गया है. बरसात के कारण तालाब का जलस्तर बढ़ गया है और यहां कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है.

नीतिश का कहना है कि तालाब के साथ लगती सड़क पर दर्जनों छोटे-बड़े वाहनों की आवाजाही लगी रहती है तथा भीड़ वाला इलाका होने के कारण बच्चे भी खेलते रहते है ऐसे में परिषद् की इस लापरवाही का खामियाजा आमजन को भुगतना पड सकता है.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर