स्थायी पॉलिसी बनाने पर अड़े गृह रक्षक, 12 महीने की स्थायी नौकरी की मांग

Pradeep Kumar | ETV Haryana/HP
Updated: July 17, 2017, 3:22 PM IST
स्थायी पॉलिसी बनाने पर अड़े गृह रक्षक, 12 महीने की स्थायी नौकरी की मांग
स्थायी पॉलिसी की मांग कर रहे गृह रक्षक
Pradeep Kumar | ETV Haryana/HP
Updated: July 17, 2017, 3:22 PM IST
हिमाचल प्रदेश में गृह रक्षक आज भी राज्य सरकार से उम्मीद लगाए हुए हैं. राज्य सरकार ने गृह रक्षकों के लिए कोई स्थायी पॉलिसी नहीं बनाई है. गौरतलब है कि ये गृह रक्षक 1962 से तैनात हैं.

गृह रक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रकाश नेगी के अनुसार, राज्य सरकार द्वारा स्थायी पॉलिसी नहीं बनाए जाने के चलते रक्षकों को बीते एक साल से काम नहीं मिल रहा है. अब एक बार फिर गृह रक्षक संघ अपनी मांगों को लेकर सरकार के दर पर पहुंचा.

हिमाचल गृह रक्षक संघ ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से 50 साल पुरानी परंपरा को बदलकर स्थायी पॉलिसी बनाने की मांग की है. संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रकाश नेगी ने सरकार से गुहार लगाई है कि गृह रक्षकों के लिए कैबिनेट में पॉलिसी को अनिवार्य तौर पर मंजूरी दिलवाई जाए.

प्रकाश नेगी ने बताया कि इस पॉलिसी के तहत उनके लिए 12 महीने का रोजगार देने के अलावा ईपीएफ काटने की भी मांग की है. इसके अलावा गृह रक्षकों की तैनाती सीमावर्ती क्षेत्रों में भी लगाने की मांग की है. होमगार्ड जवानों का मानना है कि वे सीमाई क्षेत्रों की रक्षा करने में सक्षम हैं.

उन्होंने बताया कि गृह रक्षकों के संगठन की ओर सीएम वीरभद्र सिंह के समक्ष भी कई बार यह मामला उठाया जा चुका है.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर