जानलेवा बारिश, JCB संग बहा चालक, चंबा में 22 सवारियों से भरी बस हादसे का शिकार होते-होते बची

News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 5:48 PM IST
जानलेवा बारिश, JCB संग बहा चालक, चंबा में 22 सवारियों से भरी बस हादसे का शिकार होते-होते बची
चंबा में हादसे का शिकार होते होते बची बस.
News18Hindi
Updated: July 17, 2017, 5:48 PM IST
हिमाचल प्रदेश में बीते दो दिन में हुई मूसलाधार बारिश ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है. कुल्लू के बाशिंग में ब्यास नदी में उतरे दो बच्चे बह गए, जबकि शिमला के रामपुर में बादल फटने से पशगांव नाले में आई बाढ़ ने तबाही मचाई है. चंबा में नाले में बाढ़ के बाद जेसीबी चालक मशीन के साथ बह गया. हालांकि कुछ दूरी पर लोगों ने उसे बचा लिया.

सूचना है कि यहां बिजली गिरने से मासूम बच्ची समेत दो लोग बुरी तरह झुलस गए हैं. बता दें कि मंडी में हणोगी माता मंदिर भवन पर चट्टानें गिरने से नुकसान हुआ है.

चम्बा में झजाकोठी के पास नाले में परिवहन निगम की बस हादसे का शिकार होते-होते बची. बस में करीब 22 लोग सवार थे. ये बस सनवाल से पठानकोट जा रही थी.

चंबा की लुड्डू पंचायत में जमीन खिसकने से दो मंजिला मकान ध्वस्त हो गया है। सूबे में भारी बारिश से ब्यास, सतलुज, रावी समेत तमाम नदियां और नाले उफान पर हैं. जगह-जगह लैंडस्लाइड से दर्जनों मार्ग बंद हैं.

हमीरपुर के नादौन में खनन करते समय एक ट्रैक्टर ब्यास नदी में बह गया है. रामपुर की फांचा पंचायत के पशगांव नाले में बादल फटने से लकड़ी के तीन पुल और चार घराट भी बह गए हैं. यहां सड़के बहने से कई गांवों का देश-प्रदेश से संपर्क कट गया ह.

उधर, ब्यास में नहाने उतरे तीन बच्चों में से दो तेज बहाव में बह गए. लापता छात्रों की पहचान हो गई है. ये दोनों बाशिंग के रहने वाले बताए जा रहे हैं. भुंतर, औट तथा पंडोह पुलिस थानों को भी अलर्ट कर दिया गया है.

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने सोमवार को भी प्रदेश के कुछेक हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। 22 जुलाई तक प्रदेश भर में बारिश का पूर्वानुमान है.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर