डूब रहे भाई को बचाने में गई युवक की जान, शव ढूंढ़ने में जुटी पुलिस

ETV Haryana/HP
Updated: May 19, 2017, 11:36 AM IST
डूब रहे भाई को बचाने में गई युवक की जान, शव ढूंढ़ने में जुटी पुलिस
शवों की तलाश केे दौरान मौके पर पुलिस और गोताखोरों के अलावा युवकों के परिजन भी पहुंचे.
ETV Haryana/HP
Updated: May 19, 2017, 11:36 AM IST
हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में नेहला गांव के पास सतलुज नदी में डूबने से दो युवकों की मौत हो गई. दोनों मौसेरे भाई थे और भाखड़ा डेम के पास स्थित नदी पर घूमने गए थे. गुरुवार देर शाम को हुए हादसे के बाद से अब तक दोनों युवकों के शव नहीं मिले हैं. पुलिस और गोताखोर उनकी तलाश में जुटे हैं.

जानकारी के अनुसार नंगल का रहने वाला हर्ष सभरवाल (21) गुड़गांव में रहने वाली मौसी के बेटे दीपू मलिक (22) व अन्य दो दोस्तों के साथ नेला सुरंग के पास सतलुज नदी पर घूमने आए थे. इस दौरान हर्ष नदी में नहाने के लिए उतरा और पैर फिसलने के कारण गहरे पानी में चला गया. उसे बचाने के लिए दीपू भी पानी में उतरा लेकिन वो भी गहरे पानी में चला गया. किनारे पर खड़े उनके दोनों दोस्तों ने मदद के लिए काफी प्रयास किया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. पानी गहरा होने के कारण डूबने से दोनों की मौत हो गई. हर्ष मोबाइल की दुकान पर काम करता था, जबकि दीपू मौसी के घर छुट्टियां बिताने आया था.

मौके पर पहुंची हिमाचल पुलिस ने लड़कों की लोकेशन ट्रेस कर बाहर पड़ा सामान अपने कब्जे में लिया. शवों को ढूंढ़ने के लिए गोताखोरों की टीम को बुलाया गया, लेकिन अंधेरा होने के कारण पुलिस और गोताखोरों के हाथ कुछ नहीं लगा. बिलासपुर चौकी इंचार्ज सुदर्शन शर्मा ने बताया कि डूबने वालों के साथ आए लड़के रजत के बबयान के आधार पर कार्रवाई की जा रही है.
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर