आम कश्मीरी स्कूल से दूर, पर विदेशों में पढ़ते हैं अलगाववादियों के बच्चे

News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 2:11 PM IST
आम कश्मीरी स्कूल से दूर, पर विदेशों में पढ़ते हैं अलगाववादियों के बच्चे
ज्यादातर अलगाववादी नेताओं के अपने बच्चे पढ़ाई के लिए कश्मीर से बाहर हैं. कई घाटी से बाहर अच्छी कॉरपोरेट नौकरियां कर रहे हैं.
News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 2:11 PM IST
जम्मू-कश्मीर में हालत बद से बदतर होते जा रहे हैं. स्कूल-कॉलेज आतंकियों के निशाने पर हैं. घाटी में बच्चों की पढ़ाई को प्रभावित किया जा रहा है. इतना ही नहीं घाटी में सक्रिय कई अलगाववादी नेता सेना द्वारा संचालित स्कूलों में बच्चों को पढ़ने से रोकते हैं और भारतीय शिक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाते हैं.

एक तरफ घाटी में तनाव के कारण कश्मीर के आम छात्रों की पढ़ाई बाधित हो रही है, वहीं ज्यादातर अलगाववादी नेताओं के अपने बच्चे पढ़ाई के लिए कश्मीर से बाहर हैं. कई घाटी से बाहर अच्छी कॉरपोरेट नौकरियां कर रहे हैं.

जानें अलगाववदी नेताओं के बच्चे कहां क्या कर रहे हैं:-


  • सैय्यद अली शाह गिलानी का बेटा नयीम गिलानी पाकिस्तान के रावलपिंडी में मेडिकल की पढ़ाई कर रहा है.

  • सैय्यद अली शाह गिलानी का बेटा जहूर गिलानी भारत में एक प्राइवेट एयरलाइन में क्रू मेंबर हैं. उसकी बेटी जेद्दा में टीचर और दामाद इंजीनियर है.

  • मिरवाइज उमर फारुक की बहन राबिया फारुक लंदन में डॉक्टर है.

  • गुलाम मुहम्मद सुमजी का बेटा जुगनू दिल्ली में मैनेजमेंट स्टूडेंट था.

  • गिलानी गुट के महासचिव मोहम्मद अशरफ सेराही का बेटा आबिद सेराही दुबई में कंप्यूटर इंजीनियर है.

  • दुख्तरान-ए-मिल्लत की अध्यक्ष आसिया अंद्राबी की बहन मरियम अंद्राबी परिवार के साथ मलेशिया में रहती है. असिया के बड़े बेटे को मलेशिया ने पासपोर्ट देने से इनकार कर दिया था.

  • फरीदा बेहानजी का बेटा रूमा मकबूल साउथ अफ्रीका में डॉक्टर है.

  • जम्मू-कश्मीर डेमोक्रेटिक लिबरेशन पार्टी के अध्यक्ष हाशिम कुरैशी के बेटे इकबाल और बिलाल लंदन में रहते हैं.

  • गिलानी गुट के प्रवक्ता अयाज अकबर का बेटा सरवर पुणे में मैनेजमेंट की पढ़ाई करता है.

  • गिलानी गुट के नेता अब्दुल अजीज दार के बेटे उमर दार और आदिल दार पाकिस्तान में पढ़ाई करते हैं.

  • मोहम्मद बिन कासिम का बड़ा बेटा असिया इस्लामिक यूनिवर्सिटी ऑफ मलेशिया में बेचलर ऑफ टेक्नॉलजी का स्टूडेंट रहा है. अब ऑस्ट्रेलिया में है.

First published: May 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर