जम्मू कश्मीरः अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक नजरबंद

भाषा
Updated: May 19, 2017, 2:41 PM IST
जम्मू कश्मीरः अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक नजरबंद
Photo: PTI
भाषा
Updated: May 19, 2017, 2:41 PM IST
प्रशासन ने अलगाववादियों की तरफ से प्रदर्शन से पहले शुक्रवार को हुर्रियत समूह के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारुक को नजरबंद किया गया है. अलगाववादियों ने दुख्तारन-ए-मिल्लत की प्रमुख आसिया अंद्राबी को लोक सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत हिरासत में रखे जाने के विरोध के तहत जुमे की नमाज के बाद विरोध प्रदर्शन करने का आह्वान किया था.

आसिया और उनकी सहयोगी फहमीदा सोफी पर इस हफ्ते की शुरुआत में पीएसए के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था. ये अभी जम्मू की जेल में बंद हैं. मीरवाइज के करीबी सूत्रों के मुताबिक, पुलिस की एक टीम शुक्रवार सुबह मीरवाइज के निगीन स्थित आवास पर पहुंची और उन्हें बताया कि वह आज (शुक्रवार) घर से बाहर नहीं निकल सकते. वरिष्ठ अलगाववादी नेता सैयद अली गिलानी को पहले ही उनके हैदरपोरा स्थित आवास पर नजरबंद रखा गया है.

अलगाववादी नेता मीरवाइज फारुक अपने विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं. कुछ दिनों पहले मीरवाइज ने कहा था कि कश्मीर समस्या का हल भारत और पाकिस्तान दोनो अपने स्तर से नहीं निकाल सकते. अलगाववादी नेता मिरवाइज उमर फारुख कश्मीर में हिंसा के मामलों के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया था. उन्होंने कहा था कि जब आप लोगों को बोलने नहीं दोगे, तो वो पत्थर फेंक कर ही अपनी बात कहेंगे.
कश्मीर हिंसा पर बोले मीरवाइज- लोगों को बोलने नहीं दोगे तो वे पत्थर फेंकेंगे ही
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर