गुमला के सपूत ने फिर दी शहादत, पैतृक गांव में हुआ अंतिम संस्कार

First published: January 11, 2017, 4:05 PM IST | Updated: January 11, 2017, 4:05 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp
गुमला के सपूत ने फिर दी शहादत, पैतृक गांव में हुआ अंतिम संस्कार
गुमला जिला के सपूत ने एक बार फिर शहादत दी है. बसिया थाना क्षेत्र के टकरमा गांव के रमेश टोप्पो जम्मू में सीमा पर शहीद हुए. घटना आठ जनवरी की है. बुधवार को शहीद रमेश टोप्पो का शव पैतृक गांव पहुंचा.

गुमला जिला के सपूत ने एक बार फिर शहादत दी है. बसिया थाना क्षेत्र के टकरमा गांव के रमेश टोप्पो जम्मू में सीमा पर शहीद हुए. घटना आठ जनवरी की है. बुधवार को शहीद रमेश टोप्पो का शव पैतृक गांव पहुंचा.

शहीद का शव जैसे ही उसके पैतृक गांव पहुंचा, पूरे गांव में शोक फैल गया. आसपास के गांवों के लोग भी शहीद के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे. जिला बल के जवानो ने सलामी दी. इस दौरान बसिया के एसडीओ सहित थाना प्रभारी भी मौजूद रहे.

रमेश जम्मू में सेना की सड़क बनाने वाली कम्पनी आरसीसी 57 में कार्यरत थे. नन्हीं सी उम्र में ही रमेश के सिर से पिता का साया खत्म हो गया था. दूसरे घरों के जूठे बर्तन साफ कर मां ने किसी तरह दोनों भाइयों को पढ़ाया. छोटा भाई अनुप टोप्पो रांची में पढ़ाई कर रहा है. अनुप ने कहा कि  भाई  ही  परिवार का सहारा थे. उनकी मौत के बाद परिवार का पालनहार कोई नहीं रह गया है.

facebook Twitter google skype whatsapp