'निर्मल महतो पार्क जंगल में आने का कराता है एहसास'

Rakesh Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: July 17, 2017, 11:45 PM IST
'निर्मल महतो पार्क जंगल में आने का कराता है एहसास'
पार्क में पार्क जैसा कुछ भी नहीं
Rakesh Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: July 17, 2017, 11:45 PM IST
हजारीबाग में सबसे ज्यादा राजस्व देने वाला शहीद निर्मल महतो पार्क आज जंगलो और झाड़ियों में तब्दील हो गया है. लोग पार्क में जाने के बाद अपने को ठगा महसूस करने लगे हैं. शहीद निर्मल महतो पार्क इस समय नगर निगम के जिम्मे है. इसके रख रखाव के लिए यहां तीस कर्मी भी रखे गए हैं. लेकिन समुचित देख रेख के आभाव में पार्क आज जंगल झाड़ियों में तब्दील हो गया है.

पार्क में आने वाले लोगों से पैसे लिए जाते हैं. जब इस बाबत न्यूज18 / ईटीवी ने निगम के महापौर से हालात पर सवाल किया तो महापौर स्वयं पार्क पहुंची और हालात का जायजा लिया.इसके बाद महापौर ने पार्क की स्थिति देखकर कर्मियों को जमकर फटकारा.

उन्होंने कर्मियों को सात दीनों के अंदर व्यवस्था को बेहतर करने का निर्देश दिया. महापौर अंजलि कुमारी ने कहा कि निर्मल महतो पार्क घूमने का अच्छा केंद्र है. हम चाहते हैं कि हमारी हजारीबाग की जनता पार्क में आए और घूमे. हम पार्क में सुविधाएं बढाने की तरफ काम करेंगे. पार्क को सुंदर बनाने का हमारा सपना है.

वहीं वार्ड पार्षद विजय ने कहा कि यहां आने के बाद ऐसा महसूस नहीं हुआ कि हमलोग पार्क में आए हैं. देखने से नहीं लगता है कि यह पार्क है. मतलब एक जंगल जैसा महसूस होता है. पार्क की देखरेख ईमानदारी से नहीं की जा रही है. महापौर मैडम ने इसका संज्ञान लिया है. कुछ दिशा निर्देश दिया गया है. जल्द ही इसका स्वरूप बदला जाएगा. फिर यहां आनेवालों को लगेगा कि वे सही में निर्मल महतो पार्क में आए हैं.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर