यूरेनियम कॉर्पोरेशन के माइंस गेट पर विस्थापितों और प्रभावितों का प्रदर्शन

Vikas Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: July 17, 2017, 6:00 PM IST
यूरेनियम कॉर्पोरेशन के माइंस गेट पर विस्थापितों और प्रभावितों का प्रदर्शन
रोजगार की मांग को लेकर प्रदर्शन
Vikas Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: July 17, 2017, 6:00 PM IST
सरायकेला खरसावां जिले के गम्हरिया प्रखंड के महुलडीह में विस्थापितों और प्रभावितों ने यूरेनियम कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया माइंस के गेट पर छह घंटों तक प्रदर्शन किया. जिला प्रशासन कंपनी प्रबंधन, विस्थापितों और प्रभावितों के बीच करीब दो घंटे तक वार्ता कर मामले को शांत कराने का प्रयास करता रहा. इस दौरान प्रदर्शनकारी कंपनी प्रबंधन पर बाहरी लोगों को कंपनी में काम देने का आरोप लगाते हुए काफी उग्र दिखे.

ऐसी घड़ी में प्रशासन ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए थे. साथ ही किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए दो-दो दंडाधिकारियों के साथ गम्हरिया, आदित्यपुर, कांड्रा, आर.आई.टी और चांडिल थाना प्रभारियों को पूरे दल-बल के साथ प्रतिनियुक्त किया गया था. आंदोलनकारी कंपनी प्रबंधन से प्रभावित क्षेत्रों में सीएसआऱ के तहत सुविधाएं, कंपनी में स्थायी रूप से स्थानीय लोगों की नियुक्ति की मांग पर डटे रहे.

आंदोलन का नेतृत्व कर रहे भाजपा नेता गणेश महाली के प्रयासों से आंदोलनकारियों ने आगामी 27 तारीख को अनुमंडल कार्यालय पर त्रिपक्षीय वार्ता कर निष्कर्ष निकाले जाने के आश्वासन पर फिलहाल अपना आंदोलन वापस ले लिया. आंदोलनकारियों ने वार्ता पक्ष में नहीं किए जाने की सूरत में पुनः आंदोलन की चेतावनी भी दी.

यूसीआईएल के मैनेजर सुधेश्वर पंडा ने कहा कि अब त्रिपक्षीय वार्ता होगी. उन्होंने कहा कि विस्थापितों और प्रभावितों को अप्रत्यक्ष रोजगार से जोड़ने की बात चल रही है. उन्होंने कहा कि हम इनके साथ बैठकर ही समाधान निकालना चाहते हैं.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर